New Traffic Rules in India I भारत सड़क सुरक्षा नियम

आज के इस लेख में हम केंद्र सरकार द्वारा घोषित New Traffic Rules in India के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगेI Naye Traffic Rules में किए गए बदलाव, चालान, उदेश्य, दो पहिया वाहन चलाने के नियम, सड़क पर वाहन चलाने के नियम, ट्रैफिक रूल्स इन हिंदी पीडीएफ, आदि के बारे में जानने के लिए इस लेख को अंत तक ज़रूर पढेI

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
गाड़ी की किस्त कैसे चेक करें
गाड़ी दूसरे के नाम ट्रांसफर कैसे करें
डूप्लीकेट वाहन आर सी कैसे निकालें
गाड़ी का रजिस्ट्रेशन रिन्यूअल कैसे करें 

Table of Contents

New Traffic Rules in India

1 सितंबर 2019 को पूरे भारत में सड़क सुरक्षा के नए नियम लागू किए गए है । सड़क सुरक्षा के नए नियम जारी करने पर केंद्र सरकार ने जुर्माना या चालान को भी बढ़ा दिया है जिसमें मोटर वेहिकल एक्ट के अंतर्गत ट्रेफिक नियमो को तोड़ने पर वाहन चालको को ट्रेफिक नियमो को तोड़ने पर पहले कि तुलना से ज़्यादा जुर्माना या चालान देना होगा । केंद्र सरकार ने बढ़ते हुए वाहन अकस्मात को ध्यान में रखते हुए इस नियम को जारी किया है।

इस नए नियमो के अंतर्गत नयी धारा 177 के तहत मानक से कमतर इंजन की गाड़ी बनाने पर वाहक कंपनियो को 500 करोड़ तक का जुर्माना लगाया जाएगा । ट्रेफिक नियमो को तोड़ने पर वाहक चालको को पहले 100 रुपये देना पड़ता था जिससे बढ़ाकर 500 रुपये तक बढ़ा दिया गया है।

ड्राइविंग लैसेंस के नियमो का उलंघन करने पर 1 लाख तक का जुर्माना लगाया जाएगा । सड़क पे तेज़ रफ्तार से गाड़ी या बिके चलाने पर 1000-2000 रुपये तक का जुर्माना लगाया जाएगा । अगर कोई 18 साल से कम उम्र का बचा गाड़ी चलाते हुए पकड़ा गया तो उसके माता पिता को 25 हज़ार तक का जुर्माना भर्ना होगा, एसके पश्चात उस बालक को 25 साल कि उम्र तक ड्राइविंग लैसेंस नहीं मिलेगा एवं गाड़ी का रजिस्ट्रेशन भी रद कर दिया जाएगा । जो गाड़ी चलते समय मोबाइल का इसतमाल करते है और जो अन्य ट्रेफिक के नियमो का उलघन करते है उन सब को भी भारी जुर्माना लगाया जाएगा।

मोटर वाहन के अधिनियम का संशोधन

मोटर वाहन के अधिनियम को 1989 में संशोधन किया गया था । अक्तुबर 2021 को इस अधिनियम को कुछ बदलाव के साथ लागू किए गए है । यह बहुत महत्वपूर्ण बदलाव किए गए जिसमे से एक बदलाव यह था कि आपके वाहन के भौतिक दस्तावेज़ो को हर जगह ले जाने कि ज़रूरत नहीं है । आप इन दस्तावेज़ो कि सॉफ्ट कॉपी भी अपने साथ रख सकते है । आप अपने ड्राइविंग लैसेंस कि सॉफ्ट कॉपी भी अपने पास रख सकते है । यह बदलाव डिजिटलकरण को बढ़ावा देता है । मोटर वाहन के अधिनियम में अन्य कई संशोधन किए गए है जिसमे से कुछ बदलाव इस प्रकार है।

वाहन के दस्तावेजो का भौतिक सत्यापन

ट्रेफिक के नए नियम के मुताबिक वाहन के दस्तावेज़ो को भौतिक तरीके से ही सत्यापन नहीं होगाI और अगर कोई पुलिस अधिकारी वाहन चालक के ड्राइविंग लैसेंस को किसी भी कारण से रद करना चाहे तो वह सड़क परिवहन के आधिकारिक वेब पोर्टल पर जाकर कर सकता हैI

ड्राइविंग से संबंधित दस्तावेजों की सॉफ्ट कॉपी

नए ट्रैफिक नियम के अंतर्गत अब वाहन चालकों को अपने वाहन से संबंधित सभी दस्तावेजों को मोबाइल में स्टोर करके रखना अनिवार्य होगाI क्योंकि अगर traffic police Vahan Checking के दौरान ड्राइविंग लाइसेंस अथवा अन्य दस्तावेज मांगती है, तो आप मोबाइल की सॉफ्ट कॉपी दिखा सकते हैंI अब आपको वाहन दस्तावेजों की वर्जिनल काफी साथ में रखने की आवश्यकता नहीं हैI

चालक तथा ट्रेफिक अधिकारी के बारे में जानकारी

ट्रेफिक के नए नियम के मुताबिक वाहन चालक का लैसेंस भी वेब पोर्टल पर अपडेट किया जाएगा एवं ट्रेफिक पुलिस अधिकारी की जानकारी भी वेब पोर्टल पर दी जाएगी।

वाहन निरीक्षण

ट्रेफिक के नए नियम के मुताबिक जब भी किसी नए वाहन या ड्राईवर का निरीक्षण किया जाएगा तो उनकी जानकारी वेब पोर्टल पर अपडेट करनी होगीI वाहन चालक के ड्राइविंग लैसेंस के रद होने के बाद उन्हे वेब पोर्टल पर जाकर रिपोर्ट करना होगा।

नए मोटर वेहिकल एक्ट के अंतर्गत इ-चालान

ट्रेफिक के नए नियम के मुताबिक ट्रेफिक नियमो का उलंघन करने वाले लोगो को निर्धारित किए गई रकम का जुर्माना भर्ना होगाI यह जुर्माना कि रकम भरने कि सूची आपको सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय कि आधिकारिक वेबसाइट पर दे दी जाएगी और आपके दिये गए एड्रैस पर भी खत द्वारा भी भेज दिया जाएगा।

डीजी लॉकर एवं एम-परिवहन

डीजी लॉकर एवं एम-परिवहन एप्लिकेशन पर डाले हुए वाहन के दस्तावेज़ को सत्यापन किया जा सकता है।

हैंडहेल्ड संचार उपकरण

वाहन चालक रूट नेविगेशन के लिए किसी भी हैंडहेल्ड संचार उपकरण का प्रयोग कर सकता हैI लेकिन इसके लिए यह सुनिश्चित होना जरूरी है, कि गाड़ी चलाते हुए वाहन चालक का ध्यान ड्राइविंग पर होना चाहिएI

मुख्या विशेषता न्यू ट्रैफिक रूल्स

आर्टिक्ल का नामNew Traffic Rules in India
लॉंच करने वालेभारत सरकार
लाभार्थीभारतीय नागरिक
उदेश्य मार्ग अकस्मात को कम करना
लॉंच करने का साल2019

ट्रेफिक पुलिस चालान लिस्ट

S. No.अपराधपहले चालान या जुर्मानाअब चालान या जुर्माना
1.सामान्य (177)100 रूपये500 रूपये
2.रेड रेगुलेशन नियम का उल्लंघन (177A)100 रूपये500 रूपये
3.अथॉरिटी के आदेश की अवहेलना (179)500 रूपये2000रूपये
4.अनाधिकृत गाड़ी बिना लाइसेसं चलाना (180)1000रूपये5000 रूपये
5.अयोग्यता के बावजूद ड्राइविंग (182)500 रूपये10000 रूपये
6.बिना लाइसेंस के गाड़ी चलाना (181)500रूपये5000 रूपये
7.ओवर साइज वाहन (182B) 5000 रूपये
8.ओवर स्पीडिंग (183)    400 रूपये1000 रूपये
9.खतरनाक तरीके से गाड़ी चलाना(184)1000 रूपये5000 रूपये
10.शराब पीकर गाड़ी चलाना (185)2000रूपये10000 रूपये
11.रेसिंग और तेज़ गति से गाड़ी चलाना (189)500 रूपये5000 रूपये
12.ओवर लोडिंग (194)2  हज़ार रूपये और 10000 रूपये प्रति टन अतिरिक्त20 हज़ार रूपये और 2 हज़ार रूपये प्रति टन
13.सीट बेल्ट (194B)100 रूपये1000 रूपये
14.बिना पर्मिट के गाड़ी चलाना (192A)5 हज़ार रूपये तक10 हज़ार रूपये तक
15.लाइसेंस कंडीशन का उल्लंघन (193)कुछ भी नहीं25 हज़ार रूपये से 1 लाख रूपये तक
16.पैसेंजर की ओवर लोडिंग (194A)कुछ भी नहीं1000 रूपये प्रति पेसेंजर
17.दोपहिया वाहन पर ओवर लोडिंग100 रूपये2 हज़ार रूपये और तीन महीने के लिए लाइसेंस रद्द
18.हेलमेट न पहनने पर100 रूपये1000 रूपये और तीन महीने के लिए लाइसेंस  रद्द
19.एमरजेंसी वाहन को रास्ता न देने पर (194E)कुछ भी नहीं     10000 रूपये
20.बिना इंशोरेंस के गाड़ी चलाने पर (196)1000 रूपये2000 रूपये
21.दस्तावेज़ों को लगाने की अधिकारियो की शक्ति   (206) कुछ भी नहीं183,184,185,189,190,194c,194D 194Eके तहत ड्राइविंग लाइसेंस को रद्द किया जायेगा
22.अधिकारियो को लागू करने से किये गए अपराध (210B)कुछ भी नहींसम्बंधित अनुभाग के तहत दो बार जुर्माना

यातायात के 10 नियम

  • यदि कोई नाबालिग गाड़ी चलाते हुए पकड़ा जाता है, तो उस पर ₹25000 का जुर्माना लगाने के साथ-साथ Gadi Ka Registration रद्द कर दिया जाता हैI इसके अलावा वह नाबालिक 25 की उम्र तक driving License नहीं बनवा पाएगाI
  • ड्राइविंग करते समय जो व्यक्ति मोबाइल पर बात करते हैं, ट्रैफिक जाम करने की कोशिश करते हैं, गलत दिशा से ड्राइव करते हैं, तेज रफ्तार में ड्राइव करते हैं, ट्रैफिक जाम करने की कोशिश करते हैंI ऐसी स्थिति में पकड़े जाने पर Traffic Rules के अनुसार भारी जुर्माना वसूला जाएगाI
  • नये ट्रैफिक कानून के अनुसार जो व्यक्ति ड्राइविंग लाइसेंस नियमों को तोड़ता है, उस पर ₹100000 का जुर्माना लगाया जाएगाI
  • यदि कोई व्यक्ति सड़क पर तेज रफ्तार से गाड़ी चला रहा है, तो उस पर ₹1000 से लेकर ₹2000 तक का जुर्माना लगाया जाएगाI
  • न्यू मोटर व्हीकल एक्ट 2019 के अंतर्गत यातायात के नियमों में कई संशोधन किए गए यातायात नियमों में संशोधन करने के बाद नया ट्रैफिक नियम इस प्रकार है-
  • यदि कोई वाहन चालक द्वारा जुर्माना भरने के अलावा किसी भी यातायात नियमों का पालन नहीं किया जाता हैI ऐसी स्थिति में वाहन चालक का ड्राइविंग लाइसेंस रद्द कर दिया जाएगा अथवा अस्थाई रूप से निलंबित किया जा सकता हैI
  • बहुत से मोटरसाइकिल  वाले राउंड साइलेंसर का इस्तेमाल करते हैंI चूकिं राउंड साइलेंसर बहुत ज्यादा ध्वनि करता है, इसलिए ध्वनि प्रदूषण को रोकने के लिए राउंड साइलेंसर का इस्तेमाल प्रतिबंध कर दिया गया हैI
  • मोटर वाहन संशोधित अधिनियम के अंतर्गत यदि कोई वाहन चालक वाहन चलाते समय वीडियो देखते हुए पाया जाता हैI तो उसे यातायात नियमों के तहत दंडित किया जाएगा, क्योंकि वाहन चलाते समय वीडियो देखने पर दुर्घटना हो सकती हैI
  •  बचाव वाले वाहन जैसे : पुलिस वाहन, फायर ट्रक, एंबुलेंस आदि गाड़ियों के सामने अपनी गाड़ी पार्क करने पर वाहन मालिक पर  ₹2000 का जुर्माना लग सकता हैI
  • एक ही अपराध के लिए किसी भी व्यक्ति पर दो बार जुर्माना नहीं लगाया जा सकता हैI लेकिन यदि जुर्माने की रसीद खो दिया गई है, या चालक दूसरे राज्य में गाड़ी चला रहा है, तो ऐसी स्थिति में उस पर दोबारा से जुर्माना लगाया जा सकता हैI

मोटर वाहन अधिनियम की विशेषताएं

मोटर वाहन अधिनियम के अंतर्गत भारत के सभी नागरिकों को यातायात के नियमों का पालन करना अति आवश्यक हैI क्योंकि यातायात नियमों का पालन करके ही होने वाले सड़क हादसे को कम किया जा सकता हैI यही वजह है कि रोजाना गाड़ी से होने वाले दुर्घटना और हादसे को कम करने के लिए मोटर वाहन अधिनियम द्वारा समय-समय पर कई नियम बनाए जाते हैंI जिसके अंतर्गत कुछ नियम इस प्रकार है-

1.जुर्माना

मोटर वाहन अधिनियम के अंतर्गत यातायात के जो नियम बनाए जाते हैं, अधिकांश करके वाहन चालक उन नियमों का पालन नहीं करते हैंI वाहन चालक और भारत के सभी नागरिकों पर यातायात नियमों का पालन करवाने के लिए सरकार जुर्माना लगाती हैI ताकि लोग जुर्माना के डर से यातायात नियमों का पालन करें| यही वजह है कि मोटर वाहन अधिनियम के अंतर्गत जुर्माना में 15% की वृद्धि कर दी गई है, ताकि जो व्यक्ति यातायात नियमों का पालन ना करें उसे ज्यादा जुर्माना देना पड़ेगाI

2.सुरक्षा उपकरण

भारत सरकार द्वारा मोटर वाहन अधिनियम के अंतर्गत सुरक्षा उपकरण पर भी विशेष ध्यान दिया जाता हैI क्योंकि जब Road accident होता है तो शरीर काफी क्षतिग्रस्त हो जाता है, जैसे : सिर में गंभीर चोट लगना, हाथ पैर टूट जाना आदिI इसलिए सुरक्षा उपकरण के अंतर्गत टू व्हीलर चलाते समय पैरों में जूता, सिर में हेलमेट अवश्य होना चाहिए इसके अलावा गाड़ी का लाइसेंस भी होना चाहिएI

फोर व्हीलर चलाते हुए सेफ्टी बेल्ट पहनकर गाड़ी चलानी चाहिए, गाड़ी का लाइसेंस होना चाहिएI यातायात नियमों के अंतर्गत सरकार इसीलिए किसी भी वाहन चालक से ड्राइविंग लाइसेंस, हेलमेट, पैरों में जूता, सीट बेल्ट न लगाने पर भारी जुर्माना वसूलती हैI ताकि हर व्यक्ति यातायात नियमों का पालन करें और सड़क दुर्घटना कम से कम हो सकेI

3.यातायात नियमों के प्रति जागरूकता

मोटर वाहन अधिनियम के अंतर्गत सरकार हमेशा लोगों को यातायात नियमों के प्रति जागरूकता करती रहती हैI यही वजह है कि स्कूली किताबों में भी यातायात नियमों को बताया गया है, ताकि बच्चा पढ़कर सड़क नियमों को जान सकेI इसके अलावा टीवी चैनल के माध्यम से, रोड पर बने हुए सिग्नल के माध्यम से आम लोगों को यातायात नियमों के प्रति जागरूक किया जाता हैI

नए ट्रैफिक नियमों में संशोधन करने वाले राज्य

परिवहन विभाग भारत सरकार द्वारा नए ट्रैफिक नियमों को लागू करने के बाद कई राज्य उन नियमों का पालन तो किया, लेकिन बाद में उन नियमों में संशोधन कर दियाI

हरियाणाहरियाणा राज्य ने नए ट्रैफिक नियमों को कुछ समय बाद संशोधन कर दिया था, अब कई ट्रैफिक अपराधों में जुर्माने की राशि को कम कर दिया गया हैI
ओडिशा उड़ीसा सरकार भी नए ट्रैफिक नियमों को लागू तो किया, लेकिन कुछ समय बाद यातायात नियमों में कई बदलाव कर दियाI
गोवा गोवा सरकार द्वारा नये नियमों को स्थगित कर दिया गया था लेकिन कुछ समय बाद कुछ नियमों में संशोधन करके लागू किया गयाI
कर्नाटक कर्नाटक सरकार भी नए नियमों में संशोधन किया जैसे : बिना सीट बेल्ट पहने गाड़ी चलाने पर लगने वाले जुर्माने को हजार रुपए से घटाकर ₹500 कर दिया, इस प्रकार से ट्रैफिक नियमों के अट्ठारह अपराधों का जुर्माना 30% से घटाकर 50% कर दियाI
उत्तराखंड उत्तराखंड सरकार भी पहले नये ट्रैफिक नियमों को लागू तो किया, लेकिन बाद में इन नियमों में संशोधन कर दियाI जैसे : वैध लाइसेंस के बिना ड्राइविंग करते पकड़े जाने पर जुर्माना ₹10000 से घटाकर ₹5000 कर दियाI
गुजरातगुजरात सरकार भी नए ट्रैफिक नियम लागू होने के कुछ समय बाद जुर्माने को 25 से 90 फ़ीसदी कम कर दियाI

नए ट्रैफिक नियमों को होल्ड पर रखने वाला राज्य

नई ट्रैफिक नियमों के लागू होने के बाद भी तेलंगाना राज्य मात्र एक ऐसा राज्य है, जिसने Traffice Niyam को होल्ड पर रख दियाI होल्ड पर रखने का कारण उच्च दंड से नागरिकों को होने वाले परेशानियों को बताया गयाI

दो पहिया वाहन चलाने के नियम

  • मोटर व्हीकल एक्ट के तहत दो पहिया वाहन चलाने के नियम इस प्रकार से है, जिसका पालन आपको करना चाहिएI 
  • दो पहिया वाहन चलाते समय चालक को हेलमेट जरूर लगाना चाहिए, इसके अलावा मोटरसाइकिल पर पीछे बैठे व्यक्ति को भी हेलमेट लगाना चाहिएI
  • Two Vehicle वाहन चलाते समय व्यक्ति को जूते पहनना अनिवार्य है, अगर आप चप्पल पहनकर मोटरसाइकिल चलाते पकड़े जाते हैं, तो आप पर ₹1000 का जुर्माना लग सकता हैI
  • दो पहिया वाहन चलाने वाले व्यक्ति के पास गाड़ी के सभी कागजात के अलावा Driveing License भी होना चाहिए, इसके अलावा वाहन का प्रदूषण सर्टिफिकेट भी होना चाहिएI
  • दो पहिया वाहन चलाते हुए व्यक्ति को किसी प्रकार का कोई नशा नहीं करना चाहिए, अथवा ना ही उसे दारु शराब पीकर मोटरसाइकिल चलानी चाहिएI
  • मोटरसाइकिल चलाते हुए व्यक्ति कभी भी किसी से फोन पर बात ना करें, अगर उसे बात करना है, तो पहले मोटरसाइकिल रोककर बात कर ले फिर मोटरसाइकिल चलाएंI
  • मोटरसाइकिल ज्यादा स्पीड में ना चलाएं, और यातायात नियमों का पालन करते हुए मोटरसाइकिल चलाएंI अगर आप इन नियमों का पालन करते हुए मोटरसाइकिल चलाते हैं, तो कभी भी Traffic Police बेवजह जुर्माना नहीं कटेगीI 

हाइवे पर गाड़ी चलाने समय 5 नियम का पालन करें?

जैसा कि आप जानते हैं आज के समय में आये दिन सड़क दुर्घटना हो रही है, इसके साथ साथ हाईवे दुर्घटना में भी वृद्धि हो रहीं हैं। सड़क दुर्घटना में बचने की उम्मीद की जा सकती है, लेकिन हाइवे दुर्घटना में बचने की उम्मीद बहुत कम होती है। इसलिए मैं आपको 5 नियम बताने वाला हूं अगर इन नियम का पालन करते हुए गाड़ी चलाते हैं। तो कभी भी हाइवे पर दुघर्टना नही हो सकता है।

1.स्पीड ओरिएंटेड लेन का ध्यान रखें?

हाइवे पर गाड़ी चलाने समय हमेशा स्पीड ओरिएंटेड लेन का पालन करें। जो गाड़ी थोड़ा धीमा गति से चलती है, जैसे – बस, ट्रक आदि। इन सभी गाड़ियों को हमेशा बायीं लेन से चलना चाहिए। जबकि तेज गति से चलने वाली गाड़ियां जैसे – कार, इन सभी को दाये लेन से चलना चाहिए। यह नियम हमेशा ओवरटेक करने से बचाता है, जिससे दुर्घटना की संभावना कम हो जाती है।

2.डायरेक्शन ओरिएंटेड लेन का ध्यान रखें?

हाइवे पर हमेशा 2-3 लेन होते हैं, और कभी कभी 4-6 लेन होते हैं। इसलिए हमेशा डायरेक्शन ओरिएंटेड लेन का ध्यान रखें। अगर आप दाएं लेन की तरफ मुड़ना चाहते हैं, तो हमेशा दाएं लेन की तरफ बने रहें। इसके अलावा अगर आप को हाईवे से बाहर निकलना है, तो धीरे धीरे बायें तरफ आते हुए निकल जाना है। कभी भी डायरेक्टर रोड क्रास करने की कोशिश न करें।

3.ओवरस्पीड में न चलें?

हाइवे पर कभी भी ओवर स्पीड में गाड़ी न चलाएं, क्योंकि ज्यादातर हाइवे पर दुर्घटना तेज गाड़ी चलाने के कारण होता है। इसलिए हाइवे पर आमतौर पर जगह जगह चेतावनी लगा होता है, कि यहां पर गाड़ी धीमा चलायें। अगर कहीं पर समय से पहुचना है तो घर से 10 मिनट पहले निकले, मगर कभी भी तेज गाड़ी चलाकर पहुंचने की कोशिश न करें।

4.मुड़ते समय इंडीकेटर का प्रयोग करें?

हाइवे पर हमेशा लेन बदलते समय इंडीकेटर का इस्तेमाल करें। क्योंकि हाइवे पर चलते समय आपके गाड़ी के पीछे बहुत सी गाड़ी चलती है, जो काफी स्पीड में होती हैं। इसलिए जब भी आपको दाएं लेन या बायें लेन की ओर घूमना है, तो कुछ दूरी पहले से ही इंटीकेटर चालू कर देना चाहिए। ताकि आपके पीछे वाली गाड़ी समझ जाये, और अपने गाड़ी को स्लो कर लें, इसके अलावा आपको जाने का रास्ता दे दें। अगर आप बिना इंटीकेटर दिए मुड़ते हैं, तो दुर्घटना की संभावना ज्यादा होती है।

5.चौराहे पर धीमी गति से चलें?

राजमार्गों पर बहुत सारे क्रासिंग बने होते हैं, इसलिए क्रासिंग से पहले चेतावनी बोर्ड भी लगा होता है कि गाड़ी धीमा चलायें। अगर आप इधर से तेज गति से जा रहे हैं, उधर क्रासिंग से दूसरा व्यक्ति तेज गति से आ रहा है। तो दुर्घटना होने की संभावना होती है। इसके अलावा चौराहे पर लगे यातायात इंटीकेटर बत्ती का पालन जरूर करें।

New Traffic Rules का उद्देश्य

हमारा देश जनसंख्या की दृष्टि में विश्व में दूसरे स्थान पर है, और यहां पर अधिकतर लोग सरकार के द्वारा बनाए गए ट्रैफिक नियमों का पालन नहीं करते हैंI अगर ट्रैफिक पुलिस Traffice Rules के उल्लंघन में किसी व्यक्ति को पकड़ती है, तो वह बहुत कम जुर्माना राशि भरकर आसानी से छूट जाता हैI

यही वजह है हमारे देश में सड़क हादसे बहुत ज्यादा होती हैंI जान माल का नुकसान होता हैI सड़क हादसों को कम करने के लिए तथा लोगों को ट्रैफिक कानून के प्रति जागरूक करने के लिए समय-समय पर भारत सरकार ट्रैफिक रूल्स बनाती हैI जिससे लोग उसका पालन कर सकें, और देश में वाहन दुर्घटना में कमी आ सकेI

ट्राफिक रूल्स इंडिया संबंधित प्रश्नोंत्तर

1. सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट क्या है?

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट https://parivahan.gov.in/parivahan//en/content/e-chalan है।

2. New Traffic Rules in India जारी करने का मुख्य उदेश्य क्या है?

ट्रेफिक के नए नियमो को जारी करने का मुख्य उदेश्य मार्ग अकस्मात को कम करना है।

3. नए ट्रैफिक नियम क्या है?

नए ट्रैफिक नियम की पूरी जानकारी आप ऊपर दिए गए आर्टिकल को पढ़कर जान सकते हैंI

4. गाड़ी का चालान न देने पर क्या होगा?

Traffic Police द्वारा अगर किसी गाड़ी का चालान काटा जाता है, तो वाहन मालिक के द्वारा गाड़ी का चालान ना भरने पर ना तो Vahan Ka Insurance होगा और ना ही इंश्योरेंस का नवीनीकरण होगाI

5. लाइसेंस का चालान कितना है?

ड्राइविंग लाइसेंस नियमों का उल्लंघन करने पर ₹100000 तक जुर्माना लगाया जाएगाI

6. खतरनाक ढंग से गाड़ी चलाने पर कौन सी धारा लगेगी?

अगर कोई व्यक्ति खतरनाक ढंग से गाड़ी चलाता है, तो उस पर धारा 184 के अंतर्गत ₹5000 का जुर्माना लगेगाI

7. विद्यार्थियों को ट्रैफिक नियमों की जानकारी क्यों आवश्यक है?

स्कूलों में विद्यार्थियों को ट्रैफिक नियमों की जानकारी देनी चाहिए, क्योंकि यही बच्चे जब बड़े होकर वाहन चलाएंगे| तो यातायात नियमों का पालन करेंगे, जिससे दुर्घटना में कमी आएगीI

8. ट्रैफिक नियमों का पालन करना क्यों जरूरी है?

देश के सभी लोगों को Traffic Rules का पालन करना चाहिए, क्योंकि ट्रैफिक नियमों का पालन करके ही आए दिन होने वाली दुर्घटना को रोका जा सकता हैI

9. ट्रैफिक नियम तोड़ने पर कितना जुर्माना लगता है?

Traffic Rules आप के सुरक्षा के लिए ही बनाए जाते हैं, ताकि आप यातायात नियमों का पालन करते हुए गाड़ी चलाएं और किसी प्रकार की दुर्घटना ना होI लेकिन अगर आप ट्रैफिक रूल्स को तोड़ते हैं, तो आप पर ₹100000 का भी चालान कर सकता हैI Challan कटने के साथ-साथ आपकी गाड़ी भी जब्त की जा सकती हैI 

10. ट्रैफिक के कितने नियम होते हैं?

ट्रैफिक नियम सभी कार या बाइक चलाने वाले व्यक्तियों पर लागू होती हैI अगर आप कार/बाइक चला रहे हैं तो जैसे : सीट बेल्ट जरूर पहने, Helmet के बिना मोटरसाइकिल ना चलाएं, गाड़ी चलाते समय फोन पर किसी से बात ना करें, गाड़ी तेज रफ्तार में ना चलाएं, नशे में होकर गाड़ी ना चलाएं, गाड़ी का इंश्योरेंस जरूर कराएं, रेड लाइट जंप ना करें आदि ऐसे बहुत से नियम है, जिनका पालन वाहन चालक को अवश्य करना चाहिएI

11. भारत में बिना लाइसेंस के गाड़ी चलाने पर कितना जुर्माना है?

अगर आप इंडिया में बिना License के गाड़ी चलाते पकड़े जाते हैं, तो आप पर ₹5000 का जुर्माना लगाया जा सकता हैI

12. सिग्नल तोड़ने पर कौन सी धारा लगती है?

अगर आप तेज गाड़ी चलाते हुए Signal 🚦 को तोड़ कर निकल जाते हैं, तो ऐसी स्थिति में मोटर व्हीकल एक्ट की धारा 184 के अंतर्गत सिग्नल तोड़ने पर आपका लाइसेंस पंच होगा, और दूसरी बार लाइसेंस रद्द कर दिया जाएगाI 

13. सीट बेल्ट नहीं लगाने पर न्यू मोटर व्हीकल एक्ट की कौन सी धारा लगती है?

Motar Vichale Act 1998 की धारा 194 (ख) के अंतर्गत अगर कोई व्यक्ति बिना सीट बेल्ट के वाहन चलाता है, तो उस पर ₹1000 का जुर्माना लगाया जा सकता हैI

निष्कर्ष

इस लेख में हमने New Traffic Rules in India, सड़क सुरक्षा नियम, Motor Vehicle Act के बारे में सारी जानकारी प्राप्त की हैI आपको यह ट्रेफिक रुल्स की जानकारी के बारे में ज़्यादा जानकारी प्राप्त करने के लिए नीचे कमेंट ज़रूर करेI

प्ले स्टोर डाउनलोड कैसे करें
घर बैठे बिजली चोरी की शिकायत कैसे करें
आधार कार्ड से पैन कार्ड डाउनलोड कैसे करें
पैतृक/पुश्तैनी जमीन का बंटवारा कैसे करें
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

1 thought on “New Traffic Rules in India I भारत सड़क सुरक्षा नियम”

Leave a Comment