GNM के बाद डाक्टर कैसे बनें? : कोर्स की फीस, और सैलरी

GNM Ke Bad Doctor कैसे बनें : जी.एन.एम. (GNM) के कोर्स में 3 साल का कॉलेज और 6 महीने का इंटर्नशिप intership होता है. Intership का मतलब होता है अस्पताल में प्रैक्टिकल काम करना और कामों को सीखना होता है अर्थात जिसे आप ट्रेनिंग कह सकते हैं. इसलिए आज के आर्टिकल में हम आपको जेएन एम के बाद डाक्टर बनने की पूरी प्रक्रिया के बारे में बताने वाला हूं. GNM एक डिप्लोमा/diploma स्तर का कोर्स (course) होता है. जो आरक्षित उम्मीदवारों को क्लीनिकल नर्सिंग (clinical nursing) में अपना करियर बनाने में सहायक बनता है.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

GNM का मुख्य उद्देश्य है कि प्रोफेशनल और अच्छे नर्सों को तैयार करना, क्योंकि वह एक अहम समय पर काम कर सके और अपनी ड्यूटी को पूरा करने में सक्षम हो सके. GNM course और B.S.C nursing courses भी कर सकते है.

GNM के बाद डाक्टर कैसे बने, उनकी क्या योग्यता होती है, उनके लिए कितनी पढ़ाई करनी होती है, उनका वेतन कितना होता है, और आप 12वीं के बाद डॉक्टर बन सकते हैं कि नहीं, आदि जानकारी इस आर्टिकल में बताया जाएगा. अगर आप का सपना है, GNM के बाद डाक्टर बनने का तो विस्तार पूर्वक और ध्यान पूर्वक इसे पूरा पढ़ें.

इसे भी पढ़ें 👇

साइकोलॉजी डॉक्टर कैसे बनें
आर्ट सब्जेक्ट से डॉक्टर कैसे बनें
गरुड़ कमांडो कैसे बने
बिना पैसे के अमीर कैसे बनें

GNM नर्सिंग कोर्स क्या होता हैं?

GNM कोर्स नर्सिंग के क्षेत्र में एक डिप्लोमा कोर्स होता है. जीएनएम कोर्स 3.5 वर्ष का होता है, जिसमें से 3 साल कॉलेज की पढ़ाई करनी पड़ती है जबकि 6 महीने का इंटर्नशिप होता है. इंटर्नशिप की प्रक्रिया पूरी होने के बाद आप किसी भी प्राइवेट अथवा सरकारी अस्पताल में अपने करियर की शुरुआत कर सकते हैं. इसके अलावा अगर आप चाहे तो सरकारी नौकरी के लिए भी तैयारी कर सकते हैं.

जीएनएम का फुल फॉर्म क्या है?

GNM : General Nursing & Midwifery, कोई भी विद्यार्थी 12वीं की परीक्षा पास करने के बाद जीएनएम कोर्स में एडमिशन ले सकता है.

G.N.M के बाद डॉक्टर कैसे बनें?

अगर आप जीएनएम के बाद डॉक्टर बनना चाहते हैं, तो जैसा कि हम सब लोग जानते हैं कि एक कठिन और लंबा प्रक्रिया (process) है. डॉक्टर बनने के दो रास्ते होते हैं जो पहला होता है डायरेक्ट तथा दूसरा इनडायरेक्ट होता है. जिसके माध्यम से आप जेएनएम के बाद डाक्टर बन सकते हैं. चलिए इन दोनों तरीकों के बारे में जानने है.

स्नातक पास करके डॉक्टर बनें?

Gnm course कंप्लीट करने के बाद आप अंडर(under) ग्रेजुएट ही रह जाते हैं. तो post बेसिक बीएससी नर्सिंग का कोर्स कंप्लीट करके आप BSC course और एमएससी MSC कोर्स भी कर सकते हैं. एमएससी कोर्स कंप्लीट होने के बाद आप पीएचडी भी कर सकते हैं. इन सब कोर्स को कंप्लीट करने के लिए पूरा 7 या 8 साल लग सकता है, जो एक लंबा प्रोसेस है. इसलिए आपको पूरे धैर्य के साथ पढ़ाई और तैयारी करनी होगी. PHD कोर्स कंप्लीट करने के बाद आप डॉक्टर बन सकते हैं.

प्रतियोगिता परीक्षाओं को पास कर डॉक्टर बनें?

प्रतियोगी परीक्षाओं को पास करने के बाद अगर आप डॉक्टर बनना चाहते हैं, तो आप को एंट्रेंस एग्जाम देना होगा. Entrence exam में अच्छे से अच्छे अंक को प्राप्त करना होगा. इसके बाद आप MBBS, BAMS, BDS जैसे प्रोग्राम में सीट प्राप्त कर सकते हैं.

हमारे देश में राष्ट्रीय स्तर एवं राज्य स्तर पर कई प्रतियोगी परीक्षाएं कराई जाती हैं. जिस प्रतियोगिताएं परीक्षाओं में शामिल होकर अब आप अपनी दाखिला प्राप्त कर सकते हैं. जो हमारे देश के राष्ट्रीय स्तर एवं राज्य स्तर पर प्रतियोगिताएं परीक्षाएं निम्न है.

Exam NameExam types
NEETNational level
AIIMSNational level
JIPMERNational level
AGIMD-WardhaNational level
MU-OET, ManipalNational level
CMC LudhiyanaNational level
CMC LudhiyanaNational level
GG-SIPU CET, DelhiNational level
EAM CET-AP (MBBS)State level
Assam CEE (MBBS)State level

इसके अलावा कई प्रतियोगिताएं परीक्षाएं राष्ट्रीय स्तर या राज्य स्तर पर होती है. जिसके लिए आप ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं. जैसा कि आप जानते हैं अलग-अलग राज्य में अलग-अलग क्राइटेरिया होते हैं. अगर आप इसका क्राइटेरिया में शामिल होना चाहते हैं, तो आप इन कोर्स की तैयारी कर सकते हैं। जो डॉक्टर बनने में सहायक प्रदान करेगा.

इस डिग्री को पास करने के बाद आपको कम से कम 7 से 8 साल लग सकते हैं जो एक लंबा प्रोसेस है. इसलिए आपको धैर्य के साथ काम करना होगा, यह सब प्रक्रिया कंप्लीट होने के बाद आप डॉक्टर बन सकते हैं.

GNM कोर्स करने से फायदा क्या होता हैं?

  • जीएनएम कोर्स कंप्लीट करने के बाद जब आपको हॉस्पिटल में नौकरी मिलती है. तो आप गर्भवती महिलाओं के साथ जुड़कर उनकी विशेषज्ञता की जानकारी मिलती है और आगे की प्रक्रिया जारी रखने में सहायक मिलता है.
  • जीएनएम कोर्स करने के बाद आप किसी भी प्राइवेट हॉस्पिटल या सरकारी अस्पताल में नौकरी कर सकते हैं.
  • जीएनएम कोर्स करने के बाद आप डॉक्टर बन सकते हैं जो सर्वप्रथम आपको स्नातक की पढ़ाई पूर्ण करनी होगी. उसके बाद ग्रेजुएशन कोर्स को कंप्लीट करना होगा.
  • उसके बाद आप एमबीबीएस या बीएएमएस कोर्स कंप्लीट कर सकते हैं. इससे यह माना जाता है कि इसके बाद आप डॉक्टर या नर्स बन सकते हैं, किसी गवर्नमेंट या प्राइवेट हॉस्पिटल में काम कर सकते हैं.
  • अगर आप मेडिकल के क्षेत्र में अपना कैरियर बनाना चाहती हैं तो आपको जीएनएम कोर्स करना होगा. जीएनएम कोर्स करने के बाद आप एक नर्स बन सकती हैं. जो किसी भी गवर्नमेंट या प्राइवेट हॉस्पिटल में काम कर सकती हैं.
  • नर्स बनने के बाद आपको हॉस्पिटल में मरीज की देखभाल करनी होती है और उनकी दवा दर्पण का कार्य बताया जाता है. इसके साथ कई स्किल के बारे में भी जानकारी दी जाती है, जो आप आसानी से सीख सकती हैं.
  • अस्पताल में आपको दवाइयां एवं इंजेक्शन के बारे में भी बताया जाता है, जो आप आसानी से सीख सकती हैं। नर्स बनने से पहले आपको एमबीबीएस कोर्स करना अति महत्वपूर्ण है.

डॉक्टर क्यों बनें?

तो दोस्तों अब सवाल उठता है कि आप डॉक्टर क्यों बने. तो आपके दिमाग में आएगा कि लोग यही सोचते हैं कि डॉक्टर बन जाने के बाद आपको समाज में अलग सम्मान मिलता है और इसकी सैलरी काफी ज्यादा मिलती है. इसके अलावा डॉक्टर बनने के साथ-साथ आपको कई प्रकार की एक्सपीरियंस भी मिलती है.

तो हां सबसे पहले आपको यह जानना चाहिए कि आपका डॉक्टर बनने का मेन मकसद क्या है. अगर आप सैलरी के साथ डॉक्टर बनना चाहते हैं तो, आप इस लंबे प्रक्रिया को झेलिए मत इसे बेहतर यह होगा कि आप बीएससी नर्सिंग या एमएससी जैसे कोर्स को कंप्लीट करके एक नर्स या डॉक्टर बन सकते हैं.

अगर सैलरी को लेकर दृष्टिकोण में रखते हैं, तो बहुत ही कम सैलरी दी जाती है. सैलरी ज्यादा बढ़ाने के लिए आपको बीएससी नर्सिंग या एमएससी जैसे कोर्स को कंप्लीट करना होगा. इसके बाद आप किसी भी गवर्नमेंट या प्राइवेट हॉस्पिटल में 30 से 60000 तक सैलरी पा सकते हैं.

जीएनएम कोर्स की फीस कितनी होती है?

अगर हम जीएनएम फीस की बात करें, तो प्राइवेट कॉलेज एवं सरकारी कॉलेज में अलग-अलग फीस होती है. सरकारी कॉलेज में जीएनएम की फीस 30000 से 45000 तक फीस होती है.

अगर हम प्राइवेट कॉलेज की बात करें तो जीएनएम की फीस 1,00000 से 3,80000 होती है. इसलिए आप ज्यादा से ज्यादा मेहनत करके प्रतियोगिताएं परीक्षाएं पास करके गवर्नमेंट कॉलेज पाने का प्रयास करें.

GNM की सैलरी कितनी होती हैं?

जीएनएम की सैलरी की बात करें तो शुरू शुरू में 20000 से 30000 दिए जाते हैं. जैसे-जैसे अनुभव यानि कि एक्सपीरियंस बढ़ती है उसे के हिसाब से आपकी सैलरी भी बढ़ती जाती है. तब आपकी सैलरी 60 हजार से 65000 कर दी जाती है.

जीएनएम की सैलरी की बात करें, तो जीएनएम की सैलरी अलग-अलग जगह पर अलग-अलग सैलरी दी जाती है. कहीं-कहीं पर सैलरी ज्यादा दी जाती है, तो कहीं-कहीं पर बहुत ही कम दी जाती है. प्राइवेट हॉस्पिटल में जीएनएम की सैलरी बहुत ही कम दी जाती है. जैसे-जैसे आपका अनुभव बढ़ता जाता है, उसके साथ ही सैलरी भी बढ़ाई जाती है.

अगर आप किसी सरकारी अस्पताल में जीएनएम डॉक्टर के रूप में कम कर रहे है, तो आपका सैलरी ज्यादा दिया जाता है. जो 25 से 30000 तक दिया जाता है, जो प्राइवेट हॉस्पिटल से अधिक होता है.

यदि आपका जीएनएम कोर्स कंप्लीट हो गया है तो आप कोशिश करिए की सरकारी अस्पताल में ही जॉब करें. सरकारी अस्पताल में सैलरी अच्छी खासी दी जाती है. और कई चीजों को सीखने को भी मिलता है. क्योंकि सरकारी अस्पताल में कई सारी सुविधाएं प्राप्त होती हैं और डॉक्टर से जुड़ी हर एक चीज की जानकारी बराबर दी जाती है.

अगर आप जीएनएम कंप्लीट करने के बाद आप सरकारी हॉस्पिटल नहीं पा रहे हैं, तो आप प्राइवेट हॉस्पिटल में भी कम कर सकते हैं. क्योंकि शुरू-शुरू में इसका वेतन कम होता है, उसके बाद जैसे-जैसे आपका अनुभव बढ़ता जाएगा सैलरी भी बढ़ती जाएगी.

प्राइवेट हॉस्पिटल में जॉब करते दौरान भी आप सरकारी हॉस्पिटल खोज सकते हैं. क्योंकि हम आपको पहले बता दिए हैं कि प्राइवेट हॉस्पिटल में सैलरी बहुत ही कम दी जाती है, जबकि सरकारी अस्पताल में सैलरी 25 से 30000 प्रति माह दी जाती है.

जीएनएम के बाद सरकारी नौकरी

  • Travel Nurse
  • Assistant Nurse
  • Staff Nurse
  • Clinics
  • Professor in Nursing School
  • Clinical Nurse Manager
  • Nursing Education
  • Community Health Nurse
  • Home Care Nurse
  • Nursing Education

मेडिकल से जुड़े कुछ कोर्स और उनका पूरा नाम

MBBSBachelor of Medicine and Bachelor of Surgery
BDSBachelor of Dental Surgery
BUMSBachelor of Unani Medicine and Surgery
BPTPhysiotherapy
Pharm DDoctor of Pharmacy
BAMSBachelor of Ayurvedic medicine and Surgery
B. PharmaBachelor of Pharmacy
B.Sc NursingBachelor of Science in Nursing
BHMS Bachelor of Homeopathic Medicine and Surgery

FAQ

1. जीएनएम की सैलरी कितनी होती है?

जीएनएम की प्रारंभिक सैलरी 15000 से 20000 तक दी जाती है. और वही एक्सपीरियंस बढ़ाने के बाद जीएनएम की सैलरी बढ़ती जाती है.

2. जीएनएम के लिए योग्यता क्या है?

विद्यार्थियों को अनिवार्य विषय के साथ भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान और जीव विज्ञान की स्ट्रीम 10+2 करना होगा. उम्मीदवार को अपनी परीक्षा में कम से कम 50% लाना जरूरी होता है. जीएनएम नर्सिंग शीर्ष मेडिकल कॉलेज में 60% अंक मांगते है.

3. प्राइवेट कॉलेज में जीएनएम की फीस कितनी होती है?

प्राइवेट कॉलेज में जीएनएम की फीस लगभग 1,00000 से 3,80000 तक होती हैं.

4. Gnm के बाद MBBS में एडमिशन मिल सकता है?

एएनएम, जीएनएम एवं बीएससी नर्सिंग कंप्लीट करने के बाद आप एमबीबीएस में एडमिशन ले सकते हैं. इसके लिए कोई दिक्कत जैसी संभावना नहीं होती है. एमबीबीएस में एडमिशन लेने से पहले आपको नीट की परीक्षा पास करनी होगी.

5. जीएनएम के बाद क्या कर सकते हैं?

जीएनएम कोर्स के बाद कई करियर ऑप्शन है जैसे : मिडवाइफ नर्स, क्लीनिकल नर्स, एमरजैंसी केयर नर्स, लीगल नर्सिंग कंसलटेंट, मेंटल हेल्थ केयर गिवर, चाइल्ड नर्स, सोशल वर्कर, नर्सिंग टीचर आदि.

6. जीएनएम नर्सिंग का भविष्य क्या है?

जीएनएम नर्सिंग स्नातकों की मांग सार्वजनिक अस्पताल और निजी अस्पताल तथा स्वास्थ्य से जुड़े क्षेत्रों में मांग है. जीएनएम के बाद नर्सिंग होम, अनाथालय, वृद्ध आश्रम, सेनेटोरियम और सेना, विभिन्न उद्योगों, सरकारी अस्पताल, निजी अस्पताल आदि में कम कर सकते हैं.

7. जीएनएम कोर्स कितने साल का है?

जीएनएम कोर्स 3.5 साल का कोर्स होता है. जिसमें से 3 साल कॉलेज की पढ़ाई करनी पड़ती है, इसके बाद 6 महीने इंटर्नशिप करना पड़ता है.

8. जीएनएम नर्सिंग कोर्स की सैलरी कितनी होती है?

जीएनएम नर्सिंग कोर्स करने के बाद फ्रेशर उम्मीदवार को प्राइवेट क्षेत्र में 15 से ₹20000 प्रतिमाह सैलेरी दी जाती है. जबकि सरकारी क्षेत्र में ₹25000 से लेकर ₹30000 प्रति महीने सैलरी मिलती है.

इसे भी पढ़ें 👇

स्कूल अथवा कॉलेज प्रिंसिपल कैसे बनें
12वीं के बाद लोको पायलट कैसे बनें
कोबरा कमांडो कैसे बनें
12वीं के बाद दरोगा कैसे बनें
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment