बागेश्वर धाम में घर बैठे अर्जी कैसे लगाएं | Bageshwar Dham Mi Ghar Baithe Aarzi Kaise Lagaye.

Bageshwar Dham Mi Ghar Baithe Aarzi Kaise Lagaye : दोस्तों आज के इस आर्टिकल में मैं आपको बागेश्वर धाम में घर बैठे अर्जी कैसे लगाएं, इसके विषय में पूरी जानकारी विस्तार से बताने वाला हूं| इसके अलावा बागेश्वर धाम सरकार छतरपुर मध्यप्रदेश की संपूर्ण जानकारी जैसे : बागेश्वर धाम का पता, बागेश्वर धाम छतरपुर जाने का रास्ता, बागेश्वर धाम सरकार की कथा, बागेश्वर धाम छतरपुर कांटेक्ट नंबर, आदि के बारे में बताया जाएगा| इसलिए इस आर्टिकल को ध्यान पूर्वक पूरा पढ़िएगा| 

इसे भी पढ़ें👇

खाटू श्याम मंदिर जाने का रास्तामेहंदीपुर बाला जी मंदिर संपूर्ण जानकारी
करणी माता जी मंदिर बीकानेर राजस्थान की संपूर्ण जानकारीमेहंदीपुर बालाजी मंदिर जाने का रास्ता

Table of Contents

बागेश्वर धाम की महिमा 

बागेश्वर धाम की महिमा बहुत ही निराली है क्योंकि यहां पर आने वाले सभी दीन दुखियों का दुख दूर हो जाता है| यही वजह है आज के समय में देश के कोने कोने से लाखों लोग बागेश्वर धाम पहुंच कर अपनी अर्जी लगाते हैं| ऐसा माना जाता है कि बागेश्वर धाम में अर्जी लगाने वाले व्यक्ति पर भगवान हनुमान जी की कृपा होती है, और उसके सभी दुख दर्द दूर हो जाते हैं| 

इस Bageshwar Dham का संचालन महाराज धीरेंद्र कृष्ण जी करते हैं| जब कोई भी दीन दुखी व्यक्ति अपने दुख दर्द को लेकर महाराज धीरेंद्र कृष्ण जी के दरबार में बैठता है, तो महाराज धीरेंद्र जी भक्तों के मन की बातें स्वता: जान जाते हैं, और उनके दुख दर्द का इलाज करते हैं| क्योंकि महाराज धीरेंद्र कृष्ण जी के ऊपर भगवान हनुमान जी की कृपा है| यही वजह है कि दरबार में आने वाले दीन दुखी व्यक्ति की समस्याओं का उपचार महाराज धीरेंद्र कृष्ण जी करते हैं| 

बागेश्वर धाम में दी जाने वाली भभूति (भस्म) की महिमा 

बागेश्वर धाम की महिमा आपको पता ही है, बागेश्वर धाम पर आने वाले श्रद्धालुओं को प्रसाद के रूप में भभूति यानी भस्म दी जाती है| जिसे श्रद्धालु प्रसाद के रूप में खाते हैं, और यह भभूति Maharaj Dherendra Krishna के दादा गुरु जी के समय से वितरित होती चली जा रही है| ऐसा माना जाता है कि बागेश्वर धाम से प्रसाद के रूप में मिलने वाली भभूति यदि कोई श्रद्धालु अपने घर लाकर किसी रोगी को खिला देता है, तो उसके शरीर में विद्यमान सभी कष्ट दूर हो जाते हैं| 

बागेश्वर धाम सरकार मंदिर के बारे में

मध्य प्रदेश राज्य के छतरपुर जिले में बागेश्वर धाम मंदिर स्थित है| अगर आप किसी समस्याओं से परेशान हैं इसलिए अपनी अर्जी अथवा दर्शन के लिए बागेश्वर धाम सरकार मंदिर जाना चाहते हैं| तो आपको छतरपुर की खुजराहो पन्ना रोड पर स्थित गंज नामक छोटे से कस्बे के पास आना होगा| गंज से बागेश्वर धाम मंदिर की दूरी मात्र 3 किलोमीटर रह जाती है| जहां पर गड़ा गांव में स्थित एक भव्य मंदिर हनुमान बालाजी महाराज का निर्माण किया गया है| इसी मंदिर के पुजारी महाराज श्री धीरेंद्र कृष्ण जी द्वारा श्रद्धालुओं की समस्याएं सुनी जाती है, और भगवान के सामने उनकी अर्जी लगाई जाती है| 

बागेश्वर धाम में घर बैठे अर्जी कैसे लगाएं | Bageshwar Dham Mi Ghar Baithe Aarzi Kaise Lagaye.

जो श्रद्धालु घर से ही बागेश्वर धाम मंदिर की अर्जी लगाना चाहते हैं, वे मंदिर के पुजारी महाराज श्री धीरेंद्र कृष्ण द्वारा बताई गई विधि को अपनाकर घर बैठे बागेश्वर मंदिर धाम की दर्शन करने के लिए अर्जी लगा सकते हैं| 

  • घर बैठे बागेश्वर मंदिर धाम की अर्जी लगाने के लिए सबसे पहले आपको मंगलवार के दिन एक लाल कपड़ा लेना होगा|  
  • इसके बाद उस लाल रंग के कपड़े को एक सूखे नारियल पर पूरी अच्छी तरीका से लपेट देना है|
  • जब आप सूखे नारियल पर कपड़े लपेट रहे हैं तो आपको अपने अर्जी के बारे में सोचना है| जिस काम के लिए आप अर्जी लगा रहे हैं| 
  • इसके इसके बाद लाल रंग से लपेटे गए नारियल को अपने घर के पूजा स्थल के पास रख दे, और वहां बैठकर एक माला लेकर बागेश्वर धाम सरकार का जाप करें| 
  • बागेश्वर धाम सरकार का जाप मंत्र : ओम बागेश्वराय नमः का जाप करना है| 
  • दोस्तों इस प्रकार आप बिना बागेश्वर धाम जाए घर बैठे बागेश्वर सरकार मंदिर के लिए अर्जी लगा सकते हैं|
  • र्जी लगाने के बाद आपको गृहस्थ जीवन जीते हुए भी 4 दिनों तक ब्रम्हचर्य का पालन करना है| इसके अलावा लहसुन और प्याज को खाना छोड़ देना है|  

अर्जी स्वीकार हुई कि नहीं, कैसे पता करें?

बागेश्वर धाम सरकार के लिए घर बैठे अर्जी लगाने के बाद अगर आपको सपने में 2 दिनों तक लगातार हनुमान जी का दर्शन वानर रूप में होता है| तो आपको समझ जाना चाहिए कि आपकी अर्जी स्वीकार कर ली गई है| अगर आपको सपने में हनुमान जी का वानर रूप में रूप में दर्शन नहीं होता है, तो आपकी अर्जी स्वीकार नहीं हुई है| जब आपकी अर्जी पूर्ण रूप से लग जाए, इसके बाद ही बागेश्वर धाम सरकार मंदिर का दर्शन करने जाना चाहिए| 

बागेश्वर धाम की अर्जी लगाने के बाद इन चीजों को खाने से बचें?

दोस्तों अगर आप घर बैठे Bageshwar Dham Ki Arji लगा दिए हैं, तो आपको यह ध्यान देना चाहिए बागेश्वर धाम की अर्जी लगाने के बाद मांस मदिरा, लहसुन और प्याज अपने घर में भूल से भी नहीं लाना चाहिए| इसके अलावा घर से बाहर भी आपको मांस मदिरा, लहसुन, प्याज नहीं खाना चाहिए| बागेश्वर धाम की अर्जी लगाने के बाद अगर आप भूल से भी मांस मदिरा, लहसुन, प्याज का सेवन कर लेते हैं| तो आपकी अर्जी अस्वीकृत हो जाती है, यानी बागेश्वर धाम में आपकी अर्जी प्रभु हनुमान जी द्वारा स्वीकार नहीं किया जाता है| 

बागेश्वर धाम गुरु जी द्वारा अर्जी लगाने के लिए बताया गया मंत्र

हे बागेश्वर धाम प्रभु, हे बालाजी महाराज।

हे सन्यासी बाबा, हे गुरुदेव भगवान।।

हे कलयुग के राजा,

 हमारी अर्जी स्वीकार करो, हमारी अर्जी स्वीकार करो।।

हे बागेश्वर बालाजी, आजीवन पर्यंत।

आपके चरणों से आपके धाम से, हम जुड़े रहेंगे।।

हम आते रहेंगे,

परंतु हमारी अर्जी स्वीकार करो, हमारी अर्जी स्वीकार करो।।

जो भी प्रेत बाधा, तंत्र बाधा, रोग संकट आधी व्याधि हो।

उसका निवारण करें, आपकी जय हो, आपकी जय हो।।

हे सन्यासी बाबा की सेना, तत्क्षण हमारी अर्जी स्वीकार करो।

हे सन्यासी बाबा हे दिव्य दरबार, हे बागेश्वर धाम की शक्तियां, हम पर कृपा करो।।

हम पर कृपा करो, हम पर कृपा करो।

हमारी अर्जी स्वीकार करो।।

बागेश्वर धाम मंदिर जाने का रास्ता

जो भी श्रद्धालु बागेश्वर धाम मंदिर सरकार जाना चाहते हैं, वे 3 तरीके से सड़क द्वारा, ट्रेन द्वारा, हवाई जहाज द्वारा, बागेश्वर धाम मंदिर हनुमान जी बालाजी महाराज का दर्शन करने जा सकते हैं| चलिए आगे हम सड़क द्वारा, ट्रेन द्वारा और हवाई जहाज द्वारा बागेश्वर धाम मंदिर कैसे पहुंचे, इसके विषय में विस्तार से जानते हैं|

ट्रेन द्वारा बागेश्वर धाम मंदिर कैसे जाएं?

जैसा कि आप जानते हैं बागेश्वर धाम मंदिर मध्य प्रदेश के जिले छतरपुर में स्थित है| अगर आप भारत के किसी भी राज्य से बागेश्वर धाम मंदिर का दर्शन करना आना चाहते हैं| तो आपको बागेश्वर धाम मंदिर के सबसे नजदीकी रेलवे स्टेशन छतरपुर रेलवे स्टेशन मध्य प्रदेश के लिए टिकट कटाना होगा| छतरपुर रेलवे स्टेशन पहुंचने के बाद जब आप रेलवे स्टेशन से बाहर निकलेंगे, तो आपको कई प्राइवेट टैक्सी और बसें मिल जाएंगी| गाड़ी वाला आपको ले जाकर खुजराहो पन्ना रोड से होते हुए गंज के गड़ा नामक गांव में छोड़ देगा| इसके बाद आपको गड़ा गांव से पैदल यात्रा करके 3 किलोमीटर दूरी पर स्थित बागेश्वर मंदिर धाम जाना होगा| 

बस या सड़क मार्ग द्वारा बागेश्वर धाम मंदिर कैसे पहुंचे?

दोस्तों अगर आप बस द्वारा बागेश्वर धाम मंदिर जाने की सोच रहे है, तो आपको सबसे पहले अपने नजदीकी बस स्टेशन पर जाकर यह पता करना होगा| कि कौन सी बस कितने बजे मध्य प्रदेश जिला छतरपुर के लिए जाती है| इसके बाद आपको उचित समय पर बस स्टेशन पहुंच कर वहां से छतरपुर बस स्टेशन के लिए रवाना हो जाना है| छतरपुर बस स्टेशन पर पहुंचने के बाद वहां से आपको दूसरी वाहन की सवारी करके खुजराहो पन्ना रोड से होते हुए गंज के गड़ा नामक गांव में आ जाना है| इसके आगे कोई सवारी नहीं जाती है, इसलिए यहां से 3 किलोमीटर दूरी पर स्थित बागेश्वर धाम मंदिर जाने के लिए आपको पैदल चलकर जाना होगा| 

अगर आप खुद के गाड़ी से बागेश्वर धाम मंदिर जाने के लिए सोच रहे हैं, तो जाने से पहले या सुनिश्चित कर लें, कि आपके पास ऑल इंडिया परमिट जरूर होनी चाहिए| इसके अलावा आपकी गाड़ी पर फास्ट टैग लगा होना चाहिए| क्योंकि अगर आपकी गाड़ी पर फास्ट टैग नहीं लगा होगा, तो टोल नाका पार करते हुए आप से अधिक चार्ज भुगतान किया जा सकता है| बागेश्वर धाम मंदिर का लोकेशन गूगल मैप पर उपलब्ध है, जिसे देखकर आप अपनी गाड़ी द्वारा सड़क मार्ग से होते हुए बागेश्वर धाम मंदिर पहुंच सकते हैं| 

हवाई जहाज द्वारा बागेश्वर धाम मंदिर जाने का रास्ता

अगर आप हवाई जहाज द्वारा बागेश्वर धाम मंदिर जाने की सोच रहे हैं, तो आपको बागेश्वर धाम मंदिर के सबसे नजदीकी एयरपोर्ट खुजराहो एयरपोर्ट के लिए फ्लाइट टिकट बुक करनी होगी| इसके लिए आप अपने नजदीकी एयरपोर्ट से पहले यह सुनिश्चित कर ले, कि खुजराहो एयरपोर्ट के लिए फ्लाइट यहां से जाती है कि नहीं| अगर नहीं जाती तो आपको यह पता करना होगा, कि किस एयरपोर्ट से खुजराहो एयरपोर्ट के लिए फ्लाइट जाती है| 

इसके बाद आपको उस एयरपोर्ट से खजुराहो एयरपोर्ट के लिए फ्लाइट टिकट बुक करनी है| खुजराहो एयरपोर्ट पहुंचने के बाद जब आप बाहर निकलेंगे तो वहां पर आपको कई टैक्सी मिल जाएंगे, टैक्सी में बैठकर आपको खुजराहो पन्ना रोड से होते हुए गंज के गड़ा नामक गांव में आ जाना है| गड़ा नामक गांव से बागेश्वर धाम मंदिर की दूरी 3 किलोमीटर है, जो आपको पैदल चलकर पूरी करनी होगी| 

बागेश्वर धाम मंदिर में मिलने वाला टोकन क्या होता है?

जैसा कि आप जानते हैं बागेश्वर मंदिर धाम में काफी ज्यादा मात्रा में श्रद्धालु हर दिन दर्शन करने जाते हैं| इसके कारण भीड़ भाड़ की वजह से श्रद्धालुओं को काफी परेशानी होती है| इसी परेशानी को दूर करने के लिए बागेश्वर मंदिर के सेवा समिति द्वारा यहां आने वाले श्रद्धालुओं को टोकन दिया जाता है| इस टोकन के आधार पर ही श्रद्धालु बागेश्वर धाम मंदिर में दर्शन करने जा सकते हैं| अगर आप भी बागेश्वर धाम मंदिर दर्शन करने के लिए जा रहे हैं, तो आपको मंदिर परिसर समिति द्वारा टोकन अवश्य ले लेना चाहिए| 

बागेश्वर मंदिर धाम दर्शन के लिए टोकन कैसे मिलेगा?

बागेश्वर मंदिर धाम का दर्शन करने के लिए मंदिर की सेवा समिति द्वारा जो टोकन श्रद्धालुओं को वितरित किया जाता है, वह रोजाना नहीं किया जाता है| बल्कि प्रत्येक महीने के किसी विशेष तारीख और दिन को यह टोकन वितरित किया जाता है| टोकन वितरित की जानकारी आप मंदिर के समिति कर्मचारी से ले सकते हैं। और जब मंदिर समिति द्वारा टोकन वितरित किया जाए, तो आपको जाकर अपना नाम और पता बता कर टोकन ले लेना है| बागेश्वर मंदिर धाम दर्शन के लिए टोकन मिलने के बाद बागेश्वर मंदिर धाम में आप की अर्जी लग जाती है|

बागेश्वर धाम सरकार की कथा कैसे सुन सकते हैं?

अगर आप बागेश्वर धाम सरकार मंदिर की कथा सुनना चाहते हैं| तो इसके दो तरीके हैं| इन दोनों तरीके से आप घर बैठे बागेश्वर धाम सरकार की कथा सुन सकते हैं| 

टीवी के माध्यम से बागेश्वर धाम सरकार की कथा कैसे सुने?

टीवी चैनल पर मंदिर के महाराज श्री धीरेंद्र कृष्ण द्वारा श्रीमद् भागवत कथा का वाचन किया जाता है| जोकि टीवी के माध्यम से सीधा लाइव प्रसारण किया जाता है| बागेश्वर धाम सरकार की कथा संस्कार चैनल और आस्था चैनल पर सुन सकते हैं| संस्कार चैनल और आस्था चैनल पर कथा के साथ-साथ बागेश्वर धाम सरकार की आरती और दर्शन का लाभ भी उठा सकते हैं| 

यूट्यूब चैनल के माध्यम से बागेश्वर धाम सरकार मंदिर की कथा कैसे सुन सकते हैं?

यूट्यूब पर जाकर आपको सर्च करना होगा : Bageshwar Dham Sarkar, यह चैनल 28 जून 2019 को बनाया गया था| 13 सितंबर 2022 को इस चैनल पर लगभग 2.37M Subscribers हैं| यह बागेश्वर धाम सरकार की ऑफिशियल चैनल है, इस चैनल पर बागेश्वर धाम सरकार की कथा, आरती, भूत प्रेत उतारना, श्रीमद् भागवत कथा आदि प्रकार की वीडियो अपलोड की जाती है| मंदिर के पुजारी श्री धीरेंद्र कृष्ण द्वारा आप घर बैठे इस चैनल के माध्यम से बागेश्वर धाम सरकार मंदिर की कथा सुन सकते हैं| 

बागेश्वर धाम में घर बैठे अर्जी कैसे लगाएं Contact Number

बागेश्वर धाम में होने वाली सभी मूलभूत प्रक्रिया और कार्यक्रम से संबंधित जानकारी आप बागेश्वर धाम का ऑफिशियल कांटेक्ट नंबर 8120592371 पर संपर्क करके पा सकते हैं|

Bageshwar Dham Mi Ghar Baithe Aarzi Kaise Lagaye (FAQ)

1.बागेश्वर धाम जाने से पहले क्या करें?

बागेश्वर धाम जाने से पहले अगर आप चाहे तो घर से अर्जी लगाकर जा सकते हैं, क्योंकि अगर आप बागेश्वर धाम जाकर वहीं पर अर्जी लगाते हैं, तो आपको टोकन लेना पड़ता है| 

2.बागेश्वर धाम का दरबार कब लगता है?

वैसे बागेश्वर धाम का दरबार सप्ताह के सातों दिन लगता है, लेकिन सप्ताह में पड़ने वाला मंगलवार का दिन और शनिवार का दिन हनुमान जी का दिन माना जाता है| यही वजह है कि मंगल और शनिवार का दिन बागेश्वर धाम का मुख्य दरबार माना जाता है| 

3.बागेश्वर धाम जाने में कितना खर्च आता है?

बागेश्वर धाम कहां पर है इसकी जानकारी ऊपर हमने विस्तार से बताया हुआ है| इसलिए आप अपने घर से बागेश्वर धाम जाने की बीच की दूरी के हिसाब से ट्रेन से आने-जाने का खर्च, बाकी अन्य खर्चों को जोड़ सकते हैं| 

4.बागेश्वर धाम का मंत्र क्या है?

बागेश्वर धाम का मंत्र : ओम बागेश्वराय नमः

5.बागेश्वर धाम के गुरु का क्या नाम है?

बागेश्वर धाम का संचालन वर्तमान समय में पंडित धीरेंद्र कृष्ण जी कर रहे हैं, लेकिन बागेश्वर धाम के गुरु पंडित धीरेंद्र कृष्ण जी की माता श्रीमती सरोज को माना जाता है|

6.बागेश्वर धाम का व्हाट्सएप नंबर क्या है?

Bageshwar Dham Ka WhatsApp Number : 8982862921/8120592371 

7.बागेश्वर धाम में घर से अर्जी कैसे लगाई जाती है?

मंगलवार के दिन अपने घर पर लाल वस्त्र में नारियल को बांधकर बागेश्वर धाम की अर्जी लगाई जाती है| अर्जी लगाने की विस्तारपूर्वक तरीका इस आर्टिकल में बताया गया है, जिसे आप पढ़ सकते हैं|

8.बागेश्वर धाम की मान्यता क्या है?

ऐसा मान्यता है कि बागेश्वर धाम की परिक्रमा करने के बाद लोगों का दुख और तकलीफ दूर हो जाती है| बागेश्वर धाम का मंदिर 300 साल पुराना है, लेकिन 1887 में बाबा सेतु लाल गर्ग द्वारा इसका जीर्णोद्धार किया गया था| 

निष्कर्ष

दोस्तों इस आर्टिकल में हमने Bageshwar Dham Mi Ghar Baithe Aarzi Kaise Lagaye. इसके विषय में पूरी जानकारी विस्तार से बताई है| इस आर्टिकल को पढ़कर आप घर बैठे बागेश्वर धाम में अर्जी लगा सकते हैं, इसके अलावा आपकी अर्जी स्वीकार हुई या नहीं, यह भी पता कर सकते हैं| अर्जी स्वीकार हो जाने के बाद आपको बागेश्वर धाम का दर्शन करना जाना चाहिए| बागेश्वर धाम मंदिर जाने का रास्ता, इसकी जानकारी इस आर्टिकल में दी गई है| दोस्तों इसके अलावा अगर आपको बागेश्वर धाम सरकार मंदिर से संबंधित कोई सवाल है, तो आप कमेंट करके पूछ सकते हैं| 

इसे भी पढ़ें👇

राकेश झुनझुनवाला जीवन परिचय

कोर्ट मैरिज कैसे करें

द्रौपदी मुर्मू का संपूर्ण जीवन परिचय 

गाड़ी दूसरे के नाम ट्रांसफर कैसे करें

MMID क्या होता हैं

10 thoughts on “बागेश्वर धाम में घर बैठे अर्जी कैसे लगाएं | Bageshwar Dham Mi Ghar Baithe Aarzi Kaise Lagaye.”

Leave a Reply