आंगनवाड़ी कार्यकर्ता कैसे बनें? शैक्षिक योग्यता, भर्ती नियम, सैलरी

Anganwadi Karyakarta Kaise Bane : भारत सरकार की महिला एवं बाल विकास विभाग के अंतर्गत प्रत्येक राज्यों में रहने वाली गर्भवती महिलाओं और कुपोषित बच्चों के विकास के लिए ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में आंगनवाड़ी Kendra की स्थापना की गई हैI आंगनवाड़ी केंद्र की संचालन के लिए Anganwadi Seveka और एक सहायिका की नियुक्ति की जाती हैI आंगनवाड़ी में बच्चों को शिक्षा देने वाली शिक्षिका को सेविका कहा जाता हैI जबकि रसोइयों को संभालने वाली सहायिका होती हैI

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

अगर आप भी सोच रहे हैं, कि अपने गांव के आंगनवाड़ी केंद्र में Anganwadi Karyakarta Kaise Bane. तो इस आर्टिकल को आप को ध्यान पूर्वक पढ़ना चाहिएI क्योंकि इस आर्टिकल के माध्यम से मैं आपको आंगनवाड़ी कार्यकर्ता बनने के लिए Qualifications, भर्ती नियम, Salary आदि के बारे में पूरी जानकारी विस्तार से बताने वाला हूंI

आई.टी.आई. (ITI) कोर्स क्या होता हैं
ट्रिपल सी (CCC) कोर्स क्या होता हैं
कोर्ट मैरिज कैसे करें
MMID क्या होता हैं

Table of Contents

आंगनवाड़ी केंद्र में क्या होता है?

आंगनवाड़ी केंद्र में 3 से 6 साल तक के बच्चों के पोषण का, उनकी प्रारंभिक शिक्षा का और स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखा जाता हैI इसके अलावा गर्भवती महिलाओं को कुपोषण से बचाने की जिम्मेदारी भी आंगनवाड़ी केंद्र का होता हैI

अगर इसे आसान शब्दों में कहें तो सरकार द्वारा 3 साल से लेकर 6 साल तक के बच्चों को पोषण, स्कूल की प्रारंभिक शिक्षा और स्वास्थ्य प्रदान करने के लिए इसके अलावा गर्भवती महिलाओं को कुपोषण से बचाने के लिए आंगनवाड़ी केंद्र का निर्माण की हैI इन आंगनवाड़ी केंद्र की संचालिका को ही आंगनवाड़ी कार्यकर्ता कहते हैंI

आंगनवाड़ी सेविका किसे कहते हैं?

जैसा कि आप जानते हैं भारत सरकार की महिला एवं बाल विकास विभाग के अंतर्गत आंगनवाड़ी योजना संचालित की जाती हैI आंगनवाड़ी में बच्चों को पढ़ाने वाली शिक्षिका या मैडम को ही आंगनवाड़ी सेविका कहा जाता हैI आंगनवाड़ी सेविका बच्चों के पढ़ाने के साथ-साथ आंगनवाड़ी केंद्र के संपूर्ण कार्यभार को देखती हैI

इसके अलावा गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण, बच्चों का टीकाकरण, खाद्य सामग्री का वितरण, पोलियो अभिमान में बच्चों को दवा पिलाना, इसके अलावा अन्य सरकारी योजनाओं से संबंधित कार्य भी आंगनवाड़ी सेविका के अंतर्गत आता हैI

आंगनवाड़ी सेविका (शिक्षिका/मैडम) कैसे बनें?

  • अगर कोई भी महिला आंगनवाड़ी टीचर बनने की सोच रही है, तो उसे सबसे पहले किसी मान्यता प्राप्त स्कूल से 12वीं की परीक्षा पास करनी होती हैI
  • 12वीं की परीक्षा पास करने के बाद किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त करनी होती हैI
  • ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त करने के बाद कोई भी या महिला आंगनवाड़ी कार्यकर्ता आवेदन पत्र के माध्यम से आवेदन कर सकती हैI
  • महिला एवं बाल विकास विभाग राज्य सरकार द्वारा समय-समय पर आंगनवाड़ी की रिक्त पदों पर भर्ती के लिए सूचना जारी की जाती हैI इसलिए जब आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की भर्ती  निकलती है, तो आपको आवेदन कर देना चाहिएI
  • आवेदन करने के बाद सभी उम्मीदवारों की 10वीं, 12वीं, ग्रेजुएशन के अंकों के आधार पर मेरिट तैयार किया जाता हैI इसके बाद मेरिट के आधार पर ही आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की नियुक्ति की जाती हैI
  • आंगनवाड़ी शिक्षिका बनने के लिए किसी प्रकार की परीक्षा और इंटरव्यू नहीं देना पड़ता हैI मेरिट के आधार पर ही आंगनवाड़ी शिक्षिका/सेविका की भर्ती की जाती हैI

आंगनवाड़ी सेविका बनने के लिए शैक्षिक योग्यता

  • आंगनबाड़ी शिक्षिका बनने के लिए उम्मीदवार को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से अच्छे अंको से दसवीं की परीक्षा पास होनी चाहिएI
  • आंगनवाड़ी सेविका/शिक्षिका/मैडम बनने के लिए उम्मीदवार को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से अच्छे अंको से 12वीं की परीक्षा पास होनी चाहिएI
  • आंगनवाड़ी शिक्षिका बनने के लिए उम्मीदवार को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से अच्छे अंको से ग्रेजुएट की परीक्षा पास होनी चाहिएI

आंगनवाड़ी शिक्षिका/सेविका/मैडम बनने के लिए पात्रता

  • आंगनवाड़ी टीचर बनने के लिए उम्मीदवार एक महिला होनी चाहिएI
  • उम्मीदवार की न्यूनतम उम्र 18 वर्ष और अधिकतम उम्र 35 वर्ष होना चाहिएI
  • आंगनवाड़ी कार्यकर्ता बनने के लिए उम्मीदवार एक शादीशुदा महिला होनी चाहिएI

मेरिट के आधार पर आंगनवाड़ी कार्यकर्ता का चयन प्रक्रिया

जैसा कि आप जानते हैं आंगनवाड़ी कार्यकर्ता का चयन हमेशा मेरिट के आधार पर किया जाता हैI मेरिट के आधार पर लिस्ट तैयार करते समय साक्षात्कार के लिए 25 अंक निर्धारित किए जाते हैंI जो इस प्रकार हैं 👇

  • शैक्षणिक योग्यता के लिए 10 अंक : राज्य सरकार की ओर से निर्धारित की गई योग्यता के लिए कुल 7 अंक, ग्रेजुएशन की डिग्री के लिए 2 अंक, पोस्ट ग्रेजुएशन के लिए 1 अंक शामिल होता हैI
  • अभ्यार्थी महिला के परिवार में दो बेटियां होने पर – 2 अंक
  • पर्सनल इंटरव्यू देने के बाद – 3 अंक
  • ओबीसी/एसटी/एससी जाति से संबंधित अभ्यार्थियों के लिए – 2 अंक
  • 40% या ज्यादा विकलांगता वाली महिला अभ्यर्थी को – 2 अंक
  • अनाथ आश्रम में रह रही तलाकशुदा महिला के लिए या पति से 7 साल अलग रह रही एकल महिला अभ्यार्थी के लिए – 3 अंक
  • बाल सेविका या नर्सरी टीचर के रूप में 10 महीना या इससे ज्यादा अनुभव होने पर – 3 अंक

मेरिट आधार पर 2 उम्मीदवारों को एक समान अंक मिलते पर क्या होगा?

जैसा कि आप जानते हैं आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की नियुक्ति हमेशा मेरिट आधार पर की जाती हैI लेकिन जब कभी भी दो उम्मीदवारों को एक समान नंबर मिलता है, तो ऐसी स्थिति में दोनों उम्मीदवारों में जिस उम्मीदवार की आयु ज्यादा होगीI उसे ही सबसे पहले आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की भर्ती में प्राथमिकता दिया जाएगाI

आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की सैलरी

आंगनवाड़ी केंद्रों का संचालन करने के लिए मुख्य रूप से 3 पदों की जरूरत होती है, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, मिनी आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, आंगनवाड़ी सहायिकाI भारत सरकार द्वारा आंगनवाड़ी केंद्रों पर 3 पदों का अलग-अलग वेतन निर्धारित किया गया हैI

  • आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की सैलरी : आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की सैलरी 5500 रुपए से लेकर ₹7000 प्रति माह तक होती हैI
  • मिनी आंगनवाड़ी कार्यकर्ता का वेतन : मिनी आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की सैलरी 4250 रुपए से लेकर 5500 रुपए तक होती हैI
  • आंगनवाड़ी सहायिका का वेतन : आंगनवाड़ी सहायिका की सैलरी 3250 रुपए से लेकर ₹4000 प्रति माह तक होती हैI

आंगनवाड़ी कार्यकर्ता भर्ती नियम

जैसा कि हमने ऊपर आर्टिकल में बताया है, सभी राज्यों के लिए आंगनवाड़ी भर्ती नियम अलग-अलग होते हैंI नीचे कुछ राज्यों के Anganwadi Karyakarta Bharti नियम दिए गए हैंI

आंगनवाड़ी कार्यकर्ता भर्ती नियम CG

जो भी उम्मीदवार छत्तीसगढ़ आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के लिए आवेदन करना चाहते हैंI उनके लिए सीजी सरकार द्वारा आंगनवाड़ी कार्यकर्ता भर्ती नियम और पात्रताएं इस प्रकार निर्धारित किए गए हैंI

  • आंगनवाड़ी सहायिका के लिए उम्मीदवार का आठवीं/दसवीं पास होना अनिवार्य होगाI
  • आंगनवाड़ी सहायिका की आयु सीमा 18 वर्ष से 40 वर्ष के बीच में होनी चाहिएI
  • छत्तीसगढ़ आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की भर्ती मानद सेवा, समीक्षा, शिक्षा के आधार पर किया जाएगाI

आंगनवाड़ी कार्यकर्ता भर्ती नियम MP

जो भी उम्मीदवार MP आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के लिए आवेदन करना चाहते हैंI उनके लिए एमपी सरकार द्वारा आंगनवाड़ी कार्यकर्ता भर्ती नियम और पात्रताएं इस प्रकार निर्धारित किए गए हैंI

  • शैक्षणिक योग्यता : मध्य प्रदेश आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के लिए उम्मीदवार को 8वीं, 10वीं, 12वीं पास होना अनिवार्य हैI
  • आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के लिए महिला उम्मीदवार की उम्र 18 से 35 वर्ष के बीच में होनी चाहिएI
  • एमपी आंगनवाड़ी कार्यकर्ता भर्ती नियम के अंतर्गत बाल विकास विभाग होशंगाबाद संभाग द्वारा उम्मीदवारों का चयन इंटरव्यू, मेडिकल टेस्ट, दस्तावेज सत्यापन के बाद ही किया जाता हैI

आंगनवाड़ी कार्यकर्ता भर्ती नियम UP

जो भी उम्मीदवार उत्तर प्रदेश आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के लिए आवेदन करना चाहते हैंI उनके लिए यूपी सरकार द्वारा आंगनवाड़ी कार्यकर्ता भर्ती नियम और पात्रताएं इस प्रकार निर्धारित किए गए हैंI

  • आंगनवाड़ी कार्यकर्ता/आंगनवाड़ी मिनी कार्यकर्ता के लिए उम्मीदवार का किसी मान्यता प्राप्त स्कूल से 10वीं/12वीं और स्नातक पास होना अनिवार्य हैI
  • आंगनवाड़ी कार्यकर्ता/आंगनवाड़ी मिनी कार्यकर्ता के लिए उम्मीदवार की उम्र 21 वर्ष से 45 वर्ष के बीच होनी चाहिए, जबकि आरक्षित वर्ग के उम्मीदवारों को उम्र में छूट दी जाती हैI
  • आंगनवाड़ी सहायिका के लिए कम से कम कक्षा पांचवी पास होना अनिवार्य होता हैI
  • आंगनवाड़ी सहायिका की उम्र 21 से 50 वर्ष के बीच में होनी चाहिएI
  • यूपी आंगनवाड़ी कार्यकर्ता भर्ती की प्रक्रिया मेरिट के आधार पर होती हैI मेरिट बनते समय उम्मीदवार का 10वीं, 12वीं और स्नातक के सभी अंकों को जोड़ा जाता हैI लेकिन अगर उम्मीदवार स्नातक के बाद कोई अन्य डिग्री जैसे : परास्नातक एमबीए आदि किया है, तो उसका नंबर मेरिट लिस्ट में नहीं जोड़ा जाता हैI

आंगनवाड़ी कार्यकर्ता भर्ती नियम Rajasthan

जो भी उम्मीदवार राजस्थान आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के लिए आवेदन करना चाहते हैंI उनके लिए राजस्थान सरकार द्वारा आंगनवाड़ी कार्यकर्ता भर्ती नियम और पात्रताएं इस प्रकार निर्धारित किए गए हैंI

  • शैक्षणिक योग्यता : उम्मीदवार को किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 8वीं/10वीं/12वीं या उसके समकक्ष परीक्षा पास होना अनिवार्य हैI
  • आयु सीमा मापदंड : राजस्थान आंगनवाड़ी कार्यकर्ता भर्ती के लिए उम्मीदवार की उम्र 21 साल से ऊपर और 35 साल से कम होनी चाहिएI जबकि एससी/एसटी वर्ग के उम्मीदवारों की आयु 21 से 40 वर्ष के बीच होनी चाहिएI वहीं पर विधवा/तलाकशुदा/परित्यात्का उम्मीदवार की आयु 21 से 45 वर्ष होनी चाहिएI
  • इसके अलावा उम्मीदवार महिला शादीशुदा होनी चाहिएI
  • उम्मीदवार जिस ग्राम पंचायत से आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के लिए आवेदन कर रही है, उम्मीदवार उसी ग्राम पंचायत का निवासी होना चाहिएI

आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के कार्य/सुविधाएं

जैसा कि आप जानते हैं प्रत्येक गांव में आंगनवाड़ी केंद्र होता है, और इस आंगनवाड़ी केंद्र पर उस गांव से संबंधित कई महत्वपूर्ण कार्यों की सुविधाएं दी जाती हैI जो इस प्रकार है 👇

  • 6 वर्ष से कम आयु के बच्चों का टीकाकरण आंगनवाड़ी केंद्रों पर किया जाता हैI
  • 6 वर्ष से कम आयु के बच्चों को कुपोषण जैसी खतरनाक बीमारी से बचाने के लिए आंगनवाड़ी केंद्रों का पोषक आहार दिया जाता हैI
  • गर्भवती महिलाओं की देखभाल और स्वास्थ्य को देखते हुए आंगनवाड़ी केंद्र पर टीकाकरण और पोषक आहार दिया जाता हैI
  • 3 से 6 साल के बच्चों को फ्री में प्रारंभिक शिक्षा प्रदान करनाI
  • कुपोषण जैसी गंभीर बीमारी के केस को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र अथवा जिला अस्पताल में भेजनाI

Anganwadi Karyakarta Kaise Bane (FAQ)

1. आंगनवाड़ी टीचर बनने के लिए क्या करना चाहिए?

अगर आप आंगनवाड़ी टीचर बनने की सोच रही हैं, तो आपको सबसे पहले किसी मान्यता प्राप्त स्कूल से हाई स्कूल पास करना होगाI इसके बाद मान्यता प्राप्त स्कूल से इंटरमीडिएट की परीक्षा पास करनी होगीI इसके बाद मान्यता प्राप्त स्कूल से ग्रेजुएशन पूरा करना होगाI जिसके बाद ही आप आंगनवाड़ी टीचर के लिए आवेदन कर सकती हैंI

2. आंगनवाड़ी कार्यकर्ता का चयन कौन करता है?

आंगनवाड़ी कार्यकर्ता चयन प्रक्रिया में मुख्य भूमिका महिला एवं बाल विकास विभाग की होती हैI लेकिन आंगनवाड़ी कार्यकर्ता चयन प्रक्रिया में ग्राम सभा का भी काफी योगदान होता हैI

3. आंगनवाड़ी टीचर का वेतन कितना है?

Anganwadi Teacher/मैडम का वेतन 5500 रुपए से लेकर ₹7000 प्रति माह होती है, लेकिन प्रत्येक राज्यों में आंगनवाड़ी सेविका का वेतन अलग-अलग निर्धारित किया गया हैI

4. आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की ट्रेनिंग कितने दिन की होती है?

आंगनवाड़ी कार्यकर्ता को बच्चों को पढ़ाने के लिए कम से कम 6 महीने से 1 साल की ट्रेनिंग दी जाती हैI

5. आंगनवाड़ी कार्यकर्ता का काम क्या होता है?

3 से 6 साल के बच्चों को प्रारंभिक शिक्षा, पोषण, स्वास्थ्य प्रदान करना, इसके अलावा गर्भवती महिलाओं को कुपोषण से बचाने के लिए अच्छे पोषण खाद्य पदार्थ प्रदान करना आंगनवाड़ी कार्यकर्ता का काम होता हैI

6. आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की नियुक्ति कैसे होती है?

आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की नियुक्ति मेरिट और इंटरव्यू के आधार पर किया जाता है, मेरिट के आधार पर चयन होने वाली आंगनवाड़ी कार्यकर्ता का इंटरव्यू होता है, इंटरव्यू में 25 अंक निर्धारित किए जाते हैंI 

7. आंगनवाड़ी की 6 सेवाएं कौन-कौन सी हैं?

आगनवाड़ी के अंतर्गत मूलतः छह प्रकार की सेवाएं दी जाती हैंI पोषण और स्वास्थ्य परामर्श, स्कूल एवं पूर्व शिक्षा, टीकाकरण, स्वास्थ्य जांच और संदर्भ सेवाएं, पूरक पोषाहार 

8. आंगनवाड़ी का हेड कौन होता है?

जैसा कि आप जानते हैं आंगनवाड़ी के अंतर्गत कार्यकर्ता और सहायिका की नियुक्ति की जाती हैI लेकिन आंगनवाड़ी के हेड को आंगनवाड़ी पर्यवेक्षक नियुक्त या मुख्य सेविका कहा जाता है, क्योकि 25 आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के लिए एक आंगनवाड़ी पर्यवेक्षक नियुक्त की जाती है, आंगनवाड़ी पर्यवेक्षक नियुक्त का मुख्य काम आगनवाड़ी कार्यकर्ताओं व सहायिकों को कार्य के संबंध में सही मार्गदर्शन प्रदान करना होता हैI

9. आंगनवाड़ी का फुल फॉर्म क्या होता है?

आंगनवाड़ी का फुल फॉर्म “आंगन आश्रय” होता हैI

10. गर्भवती महिला को आंगनवाड़ी से कितना पैसा मिलता है?

आंगनवाड़ी केंद्र से रजिस्ट्रेशन होने के बाद गर्भवती महिलाओं का प्रसव पूरा होने के बाद ₹5000 प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के अंतर्गत तथा ₹1400 जननी सुरक्षा योजना के अंतर्गत इस प्रकार से कुल ₹6500 की धनराशि दी जाती हैI

11. आंगनवाड़ी केंद्र में क्या-क्या सुविधा होनी चाहिए?

आंगनवाड़ी केंद्र के द्वारा गर्भवती महिलाओं और बच्चों को कई विशेष प्रकार की सुविधाएं दी जाती है, जिसकी जानकारी आपको इस आर्टिकल में विस्तार पूर्वक मिल जाएगाI

12. आंगनवाड़ी के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए?

आंगनवाड़ी के अंतर्गत जो महिलाएं आंगनवाड़ी सहायिका और मिनी आंगनवाड़ी कार्यकर्ता बनना चाहती हैं, उनकी कम से कम शैक्षिक योग्यता आठवीं पास होनी चाहिएI

13. मैं दिल्ली में आंगनवाड़ी टीचर कैसे बन सकता हूं?

अगर आप दिल्ली में आंगनवाड़ी टीचर बनना चाहते हैं, तो आप दिल्ली सरकार द्वारा जारी किया गया वेबसाइट wcddel.in पर जाकर संबंधित जानकारी प्राप्त कर सकते हैंI

14. आंगनवाड़ी का मुख्य उद्देश्य क्या है?

आंगनवाड़ी का मुख्य उद्देश्य 0 से 6 साल के बच्चों के पोषण, शारीरिक स्वास्थ्य में सुधार करना होता हैI इसके अलावा समाजिक विकास, मां को उचित पोषण, और स्वास्थ्य की शिक्षा देना ही आंगनवाड़ी का मुख्य उद्देश्य हैंI 

15. आंगनबाड़ी में बच्चों के लिए क्या-क्या सामान होता है?

आंगनवाड़ी में 3 से 6 साल के बच्चों की शिक्षा के लिए कॉपी किताब, पौष्टिक आहार, स्वास्थ्य संबंधित सेवाएं, इसके अलावा 6 वर्ष से कम बच्चों का टीकाकरण किया जाता हैI

16. आंगनवाड़ी में कितने साल के बच्चे पढ़ते हैं?

आंगनवाड़ी में 3 से 5 साल तक के बच्चे पढ़ने जाते हैंI

17. आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की ट्रेनिंग कितने दिन की होती है?

आंगनवाड़ी कार्यकर्ता को बच्चों के पढ़ाने की ट्रेनिंग 6 महीने से 1 साल की होती हैI

18. आंगनवाड़ी में कितने पद होते हैं?

आंगनवाड़ी में सुपरवाइजर, सहायक, आंगनवाड़ी वर्कर, का पद होता हैंI 

पैन कार्ड में मोबाइल नंबर कैसे चेंज करें
आबादी की जमीन अपने नाम कैसे करवाएं
नाम से बिजली बिल कैसे चेक करें
आधार कार्ड से पैन कार्ड डाउनलोड कैसे करें
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

1 thought on “आंगनवाड़ी कार्यकर्ता कैसे बनें? शैक्षिक योग्यता, भर्ती नियम, सैलरी”

Leave a Comment