प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना 2024 : आवेदन, पात्रता, दस्तावेज और लाभ

दोस्तों प्रधानमंत्री द्वारा देश के नागरिकों के लिए समय-समय पर अनेक योजना चलाई जाती रहती है। इसी कड़ी में एक बार फिर प्रधानमंत्री मोदी द्वारा नागरिकों के लिए PM Matru Vandana Yojana शुरू किया गया है। ‌ इस योजना के अंतर्गत राज्य के गर्भवती महिलाओं को आर्थिक सहायता धनराशि दी जाएगी।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत गर्भवती महिलाओं को ₹6000 की वृत्तीय सहायता दी जाएगी। वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा यह योजना शुरू किया गया है। आगे इस आर्टिकल में हम आपको स्टेप बाय स्टेप प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के बारे में पूरी जानकारी विस्तार से बताने वाले हैं। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 1 जनवरी 2017 को गर्भावस्था सहायता योजना शुरू की गई थी। इस योजना के अंतर्गत पहली बार गर्भधारण करने वाली तथा स्तनपान कराने वाली महिलाओं को आर्थिक सहायता के रूप में ₹6000 की धनराशि दी जाएगी। गर्भधारण करने के बाद महिलाएं इस योजना का लाभ लेने के लिए अपने नजदीकी आंगनबाड़ी केंद्र में जाकर फार्म भर सकती है।

PM Matru Vandana Yojana क्या है?

PMMVY गर्भवती योजना के तहत देश के सभी राज्यों में जो भी गर्भवती महिलाएं हैं उन्हें ₹6000 की आर्थिक सहायता दिया जाएगा। जो भी गर्भवती महिलाएं इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहती हैं। वे अपने नजदीक आंगनबाड़ी केंद्र पर जाकर या स्वास्थ्य केंद्र पर जाकर आवेदन फॉर्म भर सकती है। 

महिला तथा बाल विकास मंत्रालय नोडल एजेंसी के द्वारा इस योजना को संचालित किया जा रहा है। गर्भवती महिलाएं अगर जीवित बच्चों को जन्म देती हैं, तभी उन्हें प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के अंतर्गत ₹6000 की धनराशि दी जाएगी। इस योजना के लिए आवेदन करने वाली गर्भवती महिलाओं की उम्र 18 साल या उससे ऊपर होनी चाहिए।

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना में नया अपडेट

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू किया गया प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना में नया अपडेट जारी कर दिया गया है। जिसकी सूचना प्रधानमंत्री के मुख्य चिकित्सा अधिकारी राजेंद्र प्रसाद द्वारा दिया गया है। दोस्तों इस योजना का पहला हेल्पलाइन नंबर 7998799804 था, जो अब बदल कर 104 हो गया है। इसके अलावा गर्भवती महिलाओं को ₹5000 तीन किस्त में दिए जाएंगे, जबकि ₹1000 अस्पताल में बच्चे को जन्म देने के बाद गर्भवती महिला को दिया जाएगा।

इस योजना के तहत अब तक लगभग 68640 गर्भवती महिलाओं को लाभ मिल चुका है। इन सभी महिलाओं को लाभ देने के लिए कुल 26 करोड़ 97 लाख 44 हजार का खर्च आया है। इसके अलावा इस योजना के तहत 1 अप्रैल 2021 से 31 मार्च 2022 तक लगभग 3175 गर्भवती महिलाओं को लाभ दिया जा चुका है। जिसमें कुल खर्च 59 लाख हुआ है।

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का लाभ

दोस्तों केंद्र सरकार द्वारा शुरू किया गया गर्भवती महिलाओं के लिए यह योजना बहुत ही लाभकारी है। इसके निम्नलिखित लाभ है। जो इस प्रकार है-

  • इस योजना का लाभ बच्चों को जन्म देने वाली मां और बच्चे दोनों को ₹6000 की सहायता धनराशि तीन किस्तों में दी जाती है। ‌ इस आर्थिक सहायता धनराशि से महिलाएं अपने बच्चों का सही से लालन पालन कर सके और बच्चा किसी प्रकार से कुपोषण का शिकार ना हो।
  • इस योजना के अंतर्गत ₹6000 महिलाओं को तीन किस्त में दिया जाता है। पहली किस्त में ₹1000 की धनराशि दी जाती है। दूसरी किस्त में ₹2000 की ढाकाशी दी जाती है। तीसरी किस्त में ₹2000 की धनराशि दी जाती है।
  • इसके अलावा जब महिला अस्पताल में बच्चों को जन्म देती है तब उसे हजार रुपए दिया जाता है। इस प्रकार से कुल ₹6000 वित्तीय सहायता के रूप में गर्भवती महिला को दिया जाता है।
  • दोस्तों हमारे देश में ऐसे बहुत से गरीब परिवार हैं, जिनकी गर्भवती महिलाएं पैसों की कमी के कारण बच्चे का ध्यान नहीं रख पाती हैं। जिनके कारण बच्चा गर्भ में ही मर जाता है या तो कुपोषण का शिकार हो जाता है। इसलिए केंद्र सरकार द्वारा यह योजना शुरू किया गया है, ताकि गरीब परिवार की गर्भवती महिलाएं भी अपने बच्चों का सही से लालन पालन कर सकें।

गर्भवती महिलाओं को कितना पैसा मिलेगा?

दोस्तों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 1 जनवरी 2017 को प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना शुरू की गई है। इस योजना के अंतर्गत गर्भवती महिलाओं को तीन किस्तों में सहायता धनराशि दी जाती है। जो कि इस प्रकार है-

पहली किस्त

पहली किस्त का लाभ लेने के लिए महिलाओं को आखिरी माहवारी के 150 दिनों के अंदर आवेदन करना होता है। इसके लिए महिलाओं को फॉर्म1A, MCP की फोटो कॉपी, बैंक पासबुक, पहचान पत्र, मातृत्व वंदना योजना का फस्ट इंस्टॉलमेंट फार्म भरकर अपने नजदीकी आंगनबाड़ी केंद्र या स्वास्थ्य केंद्र पर जमा करना पड़ेगा। तब जाकर पहली किस्त के अंतर्गत ₹1000 की सहायता धन राशि दी जाएगी।

दूसरी किस्त

दूसरी किस्त का लाभ लेने के लिए गर्भवती महिलाओं को अपने गर्भ का चेकअप करवाना पड़ता है, जो की आंगनवाड़ी केंद्र या स्वास्थ्य केंद्र पर करवाना पड़ता है। दूसरी किस्त के अंतर्गत ₹2000 की सहायता धन राशि गर्भवती महिलाओं को दिया जाता है, जो की सीधे उनके बैंक अकाउंट में ट्रांसफर किया जाता है। गर्भवती महिलाओं को 180 दिनों के अंदर दूसरी किस्त का लाभ लेने के लिए आवेदन कर देना चाहिए।

दूसरी किस्त के लिए आवेदन करने के लिए पहचान पत्र, बैंक पासबुक की फोटो कॉपी, MCP की फोटो कॉपी, मातृत्व वंदना योजना 1B की सेकंड इंस्टॉलमेंट का फॉर्म भरकर उसके साथ सभी जरूरी दस्तावेजों की फोटो कॉपी लगाकर अपने नजदीकी आंगनबाड़ी केंद्र या स्वास्थ्य केंद्र पर जमा करना होता है।

तीसरी किस्त 

तीसरी किस्त का लाभ लेने के लिए महिलाओं को बच्चों के जन्म का रजिस्ट्रेशन करवाना पड़ता है। इसके साथ बच्चे का टीका लगाना तथा हेपेटाइटिस बी को प्रमुख रखा गया है। बच्चे को जन्म देने के बाद तीसरी किस्त 2000 की सहायता धनराशि सीधे महिला के बैंक अकाउंट में भेजी जाती है। 

तीसरी किस्त आवेदन करने के लिए गर्भवती महिलाओं को पहचान पत्र, बैंक पासबुक की फोटो कॉपी, एमसीपी की फोटो कॉपी, फार्म 1C, मातृ वंदना योजना 1C का थर्ड इंस्टॉलमेंट का फॉर्म भरकर उसके साथ दस्तावेजों की फोटो कॉपी लगाकर स्वास्थ्य केंद्र या आंगनबाड़ी केंद्र पर जमा करना होता है।

इसके अलावा अस्पताल में बच्चे को जन्म देने के बाद शेष बचा हुआ ₹1000 की धनराशि गर्भवती महिला को दिया जाता है। इस प्रकार कुल तीन किस्तों में ₹5000 की सहायता धनराशि महिला को दिया जाता है, जबकि ₹1000 अस्पताल में बच्चे को जन्म देने के बाद दिया जाता है।

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना का फॉर्म कैसे भरें?

दोस्तों अगर आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं, तो सबसे पहले आपको इस योजना में रजिस्ट्रेशन करना पड़ेगा, जिसकी प्रक्रिया नीचे स्टेप बाय स्टेप समझाया गया है।

  • सबसे पहले आवेदक को प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • ऑफिशियल वेबसाइट के होम पेज पर आपको लॉगिन पेज का ऑप्शन दिखाई देगा, जिस पर क्लिक करके ईमेल आईडी, पासवर्ड तथा कैप्चा कोड डालकर लागिन हो जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने आवेदन फार्म खुल जाएगा, जिसमें पूछी गई सभी जानकारी सही सही भर देना है। और सब्मिट बटन पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आवेदन फार्म को संबंधित विभाग के अधिकारी द्वारा जांच किया जाएगा। अगर आप इसके पात्र हैं। तो आपको इस योजना का लाभ मिलेगा।

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के लिए दस्तावेज

जो भी गर्भवती महिलाएं PMMVY योजना के लिए आवेदन करना चाहती हैं, उन्हें दस्तावेज के बारे में अवश्य जान लेना चाहिए। ‌ अगर नीचे दिए गए सभी दस्तावेज आपके पास है, तभी आप इस योजना के लिए आवेदन कर सकती हैं।

  • महिला का आधार कार्ड
  • गर्भवती महिला योजना आवेदन फॉर्म
  • बैंक खाता की पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • प्रेगनेंसी प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के लिए पात्रता

इस योजना का लाभ लेने के लिए कौन सी महिलाएं आवेदन कर सकती हैं, इसकी जानकारी पढ़ें-

  • इस योजना का लाभ लेने के लिए जो भी महिला आवेदन करना चाहती हैं, वह भारत का निवासी होनी चाहिए।
  • इस योजना में आवेदन करने वाली महिला का उम्र 18 साल से ऊपर होना चाहिए।
  • इस योजना में आवेदन करने वाली महिला गर्भवती होना चाहिए।
  • गर्भवती महिला का किसी भी बैंक में अकाउंट खुला होना चाहिए तथा बैंक अकाउंट से आधार कार्ड लिंक होना चाहिए।
  • इन सभी शर्तों को पूरा करने के बाद ही कोई भी महिला प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के तहत आवेदन करके ₹6000 की सहायता धनराशि पा सकती है।

पीएमएमवीवाई  योजना का उद्देश्य

सरकार द्वारा समय-समय पर गर्भवती महिलाओं के लिए कल्याणकारी योजनाएं चलाई जाती रही है। उसी कड़ी में गर्भवती महिलाओं को लाभ पहुंचाना इस योजना का उद्देश्य है। ताकि गरीब परिवार के महिलाओं के बच्चे को पोषण का शिकार ना हो सके और आर्थिक सहायता धनराशि से अपना और अपने परिवार का देखभाल कर सकें।

  • गर्भवती महिलाओं के प्रसव तथा स्तनपान के दौरान उनकी देखभाल करने के अभ्यास को बढ़ावा देना
  • गर्भवती महिलाओं को उनके स्तनपान और कुपोषण से संबंधित जानकारी देना।
  • गर्भवती महिलाओं को बेहतर स्वास्थ्य और पोषण से संबंधित गर्भावस्था के दौरान रखरखाव की जानकारी देना।
  • गर्भवती महिलाओं के बच्चे को कुपोषण से बचाना और मृत्यु दर में कमी करना इस योजना का उद्देश्य है।

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना का हेल्पलाइन नंबर

इस योजना के तहत सरकार द्वारा हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया गया है, अगर गर्भवती महिला को इस योजना से संबंधित और जानकारी प्राप्त करना है। या इस योजना से जुड़ी हुई कोई शिकायत करनी है। तो वह हेल्पलाइन नंबर 104 पर संपर्क कर सकती है।

पीएम मातृ वंदना स्कीम से संबंधित प्रश्नोंत्तर

1. प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना में रजिस्ट्रेशन कैसे करें?

इस आर्टिकल में आपको इस योजना की ऑफिशियल लिंक दिया गया है। जिस पर क्लिक करके आफिशियल पोर्टल पर जाना है। वहां पर ईमेल आईडी, पासवर्ड से लागिन करके आवेदन फार्म भर सकते हैं।

2. प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के तहत दी जाने वाली राशि कितनी किस्तों में दी जाती है?

इस योजना के अंतर्गत कुल तीन किस्तों में धनराशि कुल ₹5000 दिया जाता है। ‌जबकि ₹1000 अस्पताल में बच्चे को जन्म देने के बाद गर्भवती महिला को दिया जाता है। इस प्रकार से ₹6000 की सहायता धनराशि इस योजना के तहत दी जाती है। 

3. मातृ वंदना योजना का लाभ कितने बच्चों तक मिलता है?

पहला बच्चा होने पर इस योजना का लाभ मिलता है, इसके अलावा अगर दूसरा बच्चा बेटी होती है। तो भी आप PMMVY योजना वर्जन 2.0 के तहत लाभ उठा सकते हैं। 

4. प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना कब शुरू की गई?

देशभर में स्तनपान करने वाली महिला तथा गर्भवती महिला के कल्याण हेतु 1 जनवरी 2017 को इस योजना को शुरू किया गया था।

5. प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना की दूसरी किस्त का दवा कितने समय के बाद किया जा सकता है?

अंतिम मासिक धर्म की तारीख से 730 दिनों के भीतर दूसरी किस्त के लिए आवेदन कर सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें 👇

बाबू जगजीवन राम छात्रावास योजना
ग्रीन राशन कार्ड योजना क्या है
प्रधानमंत्री गति शक्ति योजना
महिला समृद्धि योजना खाता कैसे खोलें
गोबर धन योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करें
प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान योजना
अग्निपथ भर्ती योजना क्या हैं
एलआईसी कन्यादान पाॅलिसी
PM श्रम योगी मानधन योजना
मनरेगा पशु शेड योजना 2024 : पात्रता, दस्तावेज, आवेदन, नियम और शर्तें
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

3 thoughts on “प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना 2024 : आवेदन, पात्रता, दस्तावेज और लाभ”

Leave a Comment