[2022] मध्य प्रदेश विवाह रजिस्ट्रेशन कैसे करें | MP Vivah Panjikaran

विवाह पंजीयन मध्यप्रदेश 2022 | Marriage Certificate MP Gram Panchayat | विवाह प्रमाण पत्र प्रारूप pdf MP | MP Vivah Panjikaran | मैरिज सर्टिफिकेट कैसे बनाये in MP | मैरिज सर्टिफिकेट ऑनलाइन MP | mp में विवाह प्रमाण पत्र के लिए आवश्यक दस्तावेज क्या है

एमपी मैरिज रजिस्ट्रेशन 2022 : आज इस आर्टिकल में हम आपको बताने वाले हैं कि आप घर बैठे ऑनलाइन मध्य प्रदेश विवाह रजिस्ट्रेशन कैसे करें| मध्य प्रदेश सरकार ने अपने राज्य के रहने वाले नागरिकों की सुविधा के लिए आधिकारिक वेबसाइट लांच की है| जहां से आप मध्य प्रदेश मैरिज पंजीकरण कर सकते हैं| अगर आप भी शादीशुदा हैं और MP Vivah Panjikaran कराने की सोच रहे हैं, तो इस आर्टिकल को ध्यान पूर्वक पूरा पढ़िएगा| इस आर्टिकल में मध्य प्रदेश मैरिज रजिस्ट्रेशन 2022 के बारे में पूरी जानकारी विस्तार से दी जाएगी|

Contents

MP Vivah Panjikaran क्या है?

विवाह प्रमाण पत्र एक महत्वपूर्ण दस्तावेज होता है जो पति-पत्नी के संबंधों को दर्शाता है| इसके अलावा मैरिज सर्टिफिकेट के द्वारा विवाह को सरकारी मान्यता दी जाती है| इसीलिए मध्य प्रदेश सरकार भी अपने नागरिकों को मध्य प्रदेश विवाह रजिस्ट्रेशन करने के लिए कह रही है| एमपी विवाह पंजीकरण 2022 कराने के लिए लड़के की आयु 21 वर्ष होनी चाहिए तथा लड़की की आयु 18 वर्ष होनी चाहिए| अगर आप शादी के उपरांत अपना मैरिज सर्टिफिकेट नहीं बनवाते हैं, तो यह एक तरह का कानूनी अपराध है|

मैं आपको बताना चाहता हूं कि अगर आप विवाह के उपरांत अपना विवाह प्रमाण पत्र बनवा लेते हैं तो यह प्रमाण पत्र आपके बहुत काम आता है| जैसे : पति-पत्नी का जॉइंट खाता खुलवाने के लिए, शादी को कानूनी रूप से मान्यता प्राप्त करवाने हेतु, पत्नी/पति की मृत्यु पर संपत्ति पर अधिकार पाने के लिए, पत्नी/पति की नौकरी के दौरान मृत्यु पर पेंशन पाने के लिए, आदि ऐसे बहुत से कार्य हैं, जहां पर मैरिज सर्टिफिकेट की बहुत उपयोगिता होती हैं|

मध्य प्रदेश आनलाइन मैरिज रजिस्ट्रेशन 2022 (Highlight)

आर्टिकल का नामMP Online Marriage Registration
राज्यमध्य प्रदेश
लाभएक प्रकार का महत्वपूर्ण दस्तावेज
उद्देश्यबाल विवाह को रोकना
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन/ऑफलाइन
ऑफिशियल वेबसाइटmpenagarpalika.gov.in

एमपी विवाह पंजीकरण कराने का लाभ

दोस्तों अगर आप मध्य प्रदेश के निवासी हैं, और आप Madhya Pradesh Marriage Apply कराने की सोच रहे है| तो मैं आपको बता देना चाहता हूं, MP Vivah Panjikaran कराने के निम्नलिखित लाभ हैं| जो इस प्रकार है-

  • जमीन खरीदने के संबंध में मैरिज सर्टिफिकेट दस्तावेज के रूप में लगा सकते हैं|
  • एल आई सी जीवन बीमा का लाभ पाने के लिए थे एमपी मैरिज सर्टिफिकेट का उपयोग कर सकते हैं|
  • यदि पति-पत्नी में तलाक हो जाता है, तो पत्नी के लिए मासिक भत्ता पाने में विवाह प्रमाण पत्र बहुत उपयोगी होता है|
  • विवाह प्रमाण पत्र के द्वारा समाज में होने वाले बाल विवाह पर रोक लगाई जाती है|
  • मैरिज सर्टिफिकेट के द्वारा महिलाओं के अधिकारों की रक्षा की जाती है|
  • मध्य प्रदेश विवाह प्रमाण पत्र के द्वारा पति पत्नी को कानूनी रूप से शादी की मान्यता प्राप्त होती है|
  • पति/पत्नी के मृत्यु के बाद उसकी संपत्ति पर अधिकार पाने के लिए MP Vivah Praman Patra बहुत जरूरी होता है|
  • शादी के दौरान लड़के की उम्र 21 वर्ष तथा लड़की की उम्र 18 साल होनी चाहिए, तभी आप शादी के उपरांत MP Online Vivah Ragistration करा सकते है|
  • पति पत्नी को बैंक में जॉइंट अकाउंट खुलवाने के लिए भी मैरिज सर्टिफिकेट की जरूरत पड़ती है|
  • विवाह प्रमाण पत्र होने पर वधू दस्तावेजों में अपना नाम बड़ी आसानी से बदल सकती है|

MP Vivah Panjikaran Online कैसे करें?

1.अगर आप घर बैठे एमपी ऑनलाइन मैरिज रजिस्ट्रेशन 2022 कराने की सोच रहे हैं, तो आपको सबसे पहले इस की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना है|

2.यहां पर आपको बाई तरफ सबसे ऊपर दिखाई दे रही तीन लाइन पर क्लिक कर देना है| नया इंटरफेस 👇

3.यहां पर आपको दिखाई दे रहे तीर के सामने Quick Services पर क्लिक कर देना है| नया इंटरफेस 👇

4.यहां पर आपको दिखाई दे रहे तीर के सामने Marriage Certificate Registration पर क्लिक कर देना है| नया इंटरफेस 👇

5.यहां पर आपको Select Your City चुनने के बाद Continue पर क्लिक कर देना है| नया इंटरफेस 👇

6.MARRIAGE DETAILS में सभी जानकारी जैसे : विवाह पंजीकरण की तारीख, Date of Marriage, Select Your Marriage Registration Ward, Pincode, Marriage place Address, विवाह स्थल का पता, पुजारी/काजी/पादरी का मोबाइल नंबर आदि भर देना है|

7.यहां पर आपको वर का नाम, वर की जन्म तिथि, वर की माता का नाम, वर के पिता का नाम, आदि जानकारी सही सही भर देना है|

8.यहां पर आपको वधू का नाम, वधू की जन्म तिथि, वधू की माता का नाम, वधू के पिता का नाम, आदि जानकारी सही सही भर देना है|

9.यहां पर दो Witness का नाम, मोबाइल नंबर और Address भर देना है|

10.यहां पर आपको Applicant Information भर देना है, जैसे : आवेदक का नाम, आवेदक का मतदाता पहचान, आवेदक का ईमेल, आवेदक का ड्राइविंग लाइसेंस, आवेदक का पेन कार्ड, मोबाइल नंबर, आधार कार्ड नंबर आदि|

11.यहां पर आपको अपने सभी जरूरी दस्तावेजों की फोटो कॉपी अपलोड कर देंनी है|

12.इस प्रकार आप बड़ी आसानी से घर बैठे मैरिज सर्टिफिकेट ऑनलाइन MP कर सकते हैं| और आपको रजिस्ट्रेशन नंबर दे दिया जाता है|

mp में विवाह प्रमाण पत्र के लिए आवश्यक दस्तावेज क्या है

अगर आप मध्य प्रदेश विवाह पंजीकरण कराने की सोच रहे है, तो आपके पास नीचे दिए गए निम्नलिखित दस्तावेज होने चाहिए|

  • अगर शादी विदेश में संपन्न हुई है, तो वहां के अधिकारी द्वारा नो ऑब्जेक्शन का प्रमाण पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र
  • जन्म प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • वर वधु के द्वारा बनाए गए एफिडेविट
  • शादी हाल बुकिंग की रसीद
  • वर वधु का पासपोर्ट साइज फोटो
  • दो गवाहों का फोटो, एड्रेस, मोबाइल नंबर
  • निवास प्रमाण पत्र
  • विवाह रजिस्ट्रेशन के लिए शुल्क
  • वर वधु का आधार कार्ड
  • शादी का निमंत्रण कार्ड
  • शादी के समय की कुछ फोटो

मध्य प्रदेश आनलाइन मैरिज रजिस्ट्रेशन के लिए पात्रता

अगर आप Madhya Pradesh Vivah Registration कराने की सोच रहे हैं, तो मध्य प्रदेश सरकार के द्वारा ऐसे आवेदकों के लिए कुछ पात्रताएं और शर्ते रखी गई है| जो इस प्रकार है-

  • MP मैरिज सर्टिफिकेट ऑनलाइन आवेदन करते समय लड़के की उम्र 21 वर्ष तथा लड़की की उम्र 18 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए|
  • शादी करने के उपरांत एक महीने बाद आवेदन करना होगा|
  • MP Vivah Panjikaran 2022 कराते समय वर तथा वधू मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ होने चाहिए|
  • मध्य प्रदेश विवाह प्रमाण पत्र बनवाने के लिए जिस क्षेत्र में आप आवेदन कर रहे हैं| उस क्षेत्र में कम से कम वर या वधू को 6 महीने से अधिक निवास करते हुए होना चाहिए|
  • एमपी विवाह रजिस्ट्रेशन Online करने के लिए आपके पास कम से कम 2 गवाह अवश्य होने चाहिए|

एमपी मैरिज रजिस्ट्रेशन स्टेटस चेक कैसे करें?

1.MP Vivah Panjikaran Online Status Check करने के लिए आपको सबसे पहले इस लिंक पर क्लिक करना है| नया इंटरफेस 👇

2.यहां पर आपको Application Status Check / Payment-Marriage पर क्लिक कर देना है| नया इंटरफेस 👇

3.यहां पर आप MP Vivah Registration Number डालकर मध्यप्रदेश विवाह पंजीकरण स्टेटस चेक कर सकते हैं|

एमपी विवाह प्रमाण पत्र आफलाइन आवेदन प्रक्रिया

अगर आपको MP Vivah Online Registration 2022 करने की प्रक्रिया नहीं पता हैं| तो आप बड़ी आसानी से ऑफलाइन आवेदन कर सकते हैं|

  • इसके लिए आपको सबसे पहले नगर पालिका के कार्यालय में जाना है वहां से मध्य प्रदेश विवाह प्रमाण पत्र आवेदन फार्म लेना हैं|
  • MP Marriage Registration Application Form में पूछी गई सभी जानकारी सही-सही भर देना है, इसके साथ अपने जरूरी दस्तावेजों की फोटो कॉपी संलग्न कर देनी है|
  • इसके बाद दो गवाहों की फोटो, आधार कार्ड, और एड्रेस की फोटो कॉपी संलग्न कर देनी है|
  • इसके बाद इस आवेदन फार्म को ले जाकर नगर पालिका के कार्यालय में जमा कर देना है|
  • इसके बाद नगरपालिका कार्यालय के कर्मचारियों के द्वारा आपके आवेदन फार्म की जांच की जाएगी, जिसके फलस्वरूप आपको मध्य प्रदेश विवाह प्रमाण पत्र दे दिया जाता है|

एमपी मैरिज सर्टिफिकेट डाउनलोड कैसे करें?

1.अगर आप MP Vivah Panjikaran Download करना चाहते हैं, तो आपको सबसे पहले इस की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा|

2.यहां पर आपको तीन लाइन पर क्लिक करके e-Services के आप्शन पर क्लिक कर देना है|

3.इसके बाद आपके सामने कई ऑप्शन दिखाई देंगे, जिनमें से आपको Track Status के आप्शन पर क्लिक कर देना है| नया इंटरफेस 👇

4.आपको दिखाई दे रहे तीर के सामने Download Marriage Certificate पर क्लिक कर देना है|

5.यहां पर आपको MP Marriage Registration Number भरकर Get Certificate पर क्लिक कर देना है| इसके बाद मध्य प्रदेश विवाह प्रमाण पत्र डाउनलोड कर लेना हैं|

MP eNagerPalika Citizen App डाउनलोड कैसे करें?

1.मध्य प्रदेश राज्य के सभी नागरिकों के लिए मध्य प्रदेश सरकार द्वारा नगरपालिका की सेवाओं का लाभ उठाने के लिए मोबाइल एप्लीकेशन लांच किया गया है|

2.इस एप्लीकेशन में उपलब्ध सेवाओं का लाभ मध्यप्रदेश के नागरिक बड़ी आसानी से उठा सकते हैं|

3.MP eNagerPalika Citizen App Download करने के लिए आपको सबसे पहले अपनी मोबाइल के गूगल प्ले स्टोर पर जाना है|

4.गूगल प्ले स्टोर पर जाने के बाद वहां पर सर्च करना है – MP e Nager Palika 👇

5.यहां पर आपको Install पर क्लिक करके एमपी ई नगर पालिका मोबाइल एप डाउनलोड कर सकते हैं|

MP Vivah Panjikaran का उद्देश्य

जैसा कि आप जानते हैं भारत में पहले महिलाओं की स्थिति अच्छी नहीं थी, उनकी छोटी उम्र में शादी हो जाने के कारण उन्हें ससुराल में कई प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ता था| या फिर पति की मौत के बाद उन्हें ससुराल से बेदखल कर दिया जाता था| या फिर दहेज ना लाने के कारण लड़की को परेशान किया जाता था| इन सब परेशानियों से बचने के लिए लड़की के पास कोई विकल्प नहीं होता था| इन्हीं सब परेशानियों को देखकर सरकार ने Marriage Certificate बनवाना अनिवार्य कर दिया है| अब अगर ससुराल वाले लड़की को ससुराल से बेदखल करते हैं, या पति की मौत के बाद उसे पति की संपत्ति पर अधिकार नहीं मिलता है| या फिर दहेज के लिए लड़की को परेशान किया जाता है| ऐसे में वह लड़की विवाह प्रमाण पत्र के माध्यम से अपने अधिकारों के लिए लड़ सकती है, कानून का दरवाजा खटखटा सकती है|

इसके अलावा मैरिज सर्टिफिकेट के माध्यम से बाल विवाह पर रोक लगाया गया| अब शादी करने के लिए लड़के तथा लड़की की आयु 21 तथा 18 वर्ष होनी चाहिए| और अगर सरकार की नीतियों का कोई भी नागरिक उल्लंघन करता है, तो उसके ऊपर कानूनी कार्रवाई की जा सकती है| महिलाओं का अधिकार सुरक्षित रखने के लिए ही सरकार द्वारा MP Vivah Panjikaran बनवाना अनिवार्य कर दिया गया है|

FAQ

MP Vivah Panjikaran Status Check कैसे करें?

मध्य प्रदेश विवाह ऑनलाइन पंजीकरण स्टेटस चेक करने के लिए इस की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर चेक कर सकते हैं|

विवाह प्रमाण पत्र बनवाना क्यों जरूरी है?

सरकार द्वारा महिलाओं के अधिकारों की रक्षा करने तथा बाल विवाह को रोकने के लिए मैरिज सर्टिफिकेट बनवाना अनिवार्य कर दिया है| इसलिए भारत के सभी नागरिकों की जिम्मेदारी बनती है कि भारत सरकार का सहयोग करें और शादी होने के उपरांत अपना विवाह प्रमाण पत्र जरूर बनवा लें|

एमपी विवाह पंजीकरण करने की ऑफिशियल वेबसाइट क्या है?

मध्य प्रदेश ऑनलाइन मैरिज रजिस्ट्रेशन की बेबसाइट : http://www.mpenagarpalika.gov.in

एमपी विवाह रजिस्ट्रेशन के दौरान वर-वधू की आयु कितनी होनी चाहिए?

अगर आप विवाह प्रमाण पत्र बनवाने के लिए आवेदन करते हैं, तो आवेदन करते समय लड़के की उम्र 21 साल तथा लड़की की उम्र 18 साल पूर्ण हो जाना चाहिए|

भारत में विवाह पंजीकरण के मुख्यत: दो तरीके क्या है?

  • हिंदू विवाह अधिनियम 1955 : भारत के बहुसंख्यक हिंदुओं के विवाह का पंजीकरण किस अधिनियम के तहत किया जाता है|
  • विशेष विवाह अधिनियम 1954 : भारत में रहने वाले दूसरे धर्म के लोगों के विवाह का पंजीकरण इस अधिनियम के तहत किया जाता है|

निष्कर्ष

दोस्तों इस आर्टिकल में हमने MP Vivah Panjikaran 2022 के बारे में पूरी जानकारी विस्तार से बताई हैं| आज के समय में एमपी मैरिज सर्टिफिकेट बनवाना बहुत अनिवार्य हो गया है| इसलिए जितना जल्द हो सके अपना विवाह प्रमाण पत्र बनवा लें| अगर मैरिज सर्टिफिकेट कैसे बनाये in MP से संबंधित कोई सवाल है, तो कमेंट करके पूछ सकते हैं|

इसे भी पढ़ें

मध्य प्रदेश नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट कैसे देखें

नाम से समग्र आईडी कैसे निकाले

मोबाइल नंबर से समग्र आईडी निकालें

मध्यप्रदेश श्रमिक कार्ड ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

मध्य प्रदेश विमर्श पोर्टल

आधार कार्ड से समग्र आईडी निकालना

मध्य प्रदेश जन सुनवाई योजना

Leave a Comment