मधु क्रांति पोर्टल क्या हैं | Madhu Kranti Portal Kya Hai

मधुक्रांति पोर्टल का लाभ | Madhu Kranti Portal Kya Hai | मधुक्रांति पोर्टल रजिस्ट्रेशन | Madhu Kranti Portal Registration | मधु क्रांति पोर्टल का उद्देश्य | Madhumakhi Palan Helpline Number

कृषि और किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने शहद और अन्य मधु उत्पादों को ऑनलाइन उपलब्ध कराने के लिए मधु क्रांति पोर्टल (Madhu Kranti Portal) और हनी कॉर्नर की शुरुआत की है। मधु क्रांति पोर्टल के माध्यम से आप शहर की गुणवत्ता और मिलावट की जांच भी कर सकते हैं।

मधुक्रांति पोर्टल क्या हैं | Madhu Kranti Portal Kya Hai

राष्ट्रीय मधुमक्खी बोर्ड के अंतर्गत मधु क्रांति पोर्टल की शुरूआत की गई है। मधु क्रांति पोर्टल और हनी कॉर्नर की शुरुआत के लिए नेशनल बी बोर्ड और इंडियन बैंक के बीच समझौता भी हुआ है।

ऐसा माना जाता है कि मधु क्रांति पोर्टल की शुरूआत से भारतीय किसानों की आय में वृद्धि होगी और बेरोजगार लोगों को रोजगार मिलेगा, कृषि और किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि अपने पूरे देश में मधु क्रांति होनी चाहिए।

मधु क्रांति पोर्टल का लाभ | Madhu Kranti Portal ka Laabh

मधु क्रांति पोर्टल का लाभ ज्यादा करके उन किसान भाइयों को मिलेगा। जो मधुमक्खी उत्पादन करते हैं। जिनकी जीविका ही मधुमक्खी उत्पादन से चलती है। ऐसे में अब ये किसान भाई मधुमक्खी पोर्टल के माध्यम से अपने शहद को बड़ी आसानी से बेच सकते हैं। या उन्हें मधुमक्खी पालन से संबंधित कोई जानकारी हासिल करना हुआ। तो वे मधु क्रांति पोर्टल से बड़ी आसानी से वह जानकारी हासिल कर सकते हैं।

मधु क्रांति पोर्टल का उद्देश्य | Madhu Kranti Portal ka Uddeshy

दोस्तों जैसा कि आप जानते हैं कि भारत में वे किसान जो मधुमक्खी उत्पादन करते हैं, उनके सामने सबसे बड़ी समस्या यह होती है कि वे शहद को सही दाम में बेच नहीं पाते हैं। जिसके चलते उनका नुकसान होता है। इन्हीं सब बातों को ध्यान में रखते हुए मधु क्रांति पोर्टल की शुरूआत की गई है। मधु क्रांति पोर्टल के माध्यम से अब मधुमक्खी उत्पादन करने वाले किसान बड़े आसानी से अपने शहर को सही दाम में बेच सकते हैं, और उन्हें मधु क्रांति पोर्टल में अन्य प्रकार की सुविधाएं भी मिल जाएगी।

मधु क्रांति पोर्टल आनलाइन रजिस्ट्रेशन | Madhu Kranti Portal Online Registration

मधु क्रांति पोर्टल में आनलाइन रजिस्ट्रेशन की शुरुआत कर दी गई है। मधु क्रांति पोर्टल में मधुमक्खी पालन करने वाले किसान तथा इन कार्यों से जुड़े अन्य लोग अपना रजिस्ट्रेशन करेंगे। इसके बाद सरकार मधु क्रांति पोर्टल का अध्ययन करेगा। फिर उसी के अनुसार अपनी योजनाएं लाएगा, जो मधुमक्खी पालन करने वाले किसान तथा उनसे जुड़े अन्य लोगों को लाभ मिले।

ग्रामीण इलाकों में 1.20 लाख टन शहद का उत्पादन

मधुमक्खी पालन के अंतर्गत ग्रामीण इलाकों में हर वर्ष 1.20 लाख शहद का उत्पादन किया जाता है जिसमें से लगभग 50% शहद का निर्यात किया जाता है। इसलिए मधु क्रांति पोर्टल की शुरूआत हो जाने से अब ग्रामीण इलाकों में शहद उत्पादन में वृद्धि होगी। और ग्रामीण इलाकों में रहने वाले गरीब किसानों के लिए आय का एक जरिया भी बन जाएगा।

मधुमक्खी पालन के लिए सरकार से मिलने वाला अनुदान

उद्यान विभाग के द्वारा राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के अंतर्गत मधुमक्खी पालन करने वाले किसान को 40 से 50% तक का अनुदान दिया जाता है। इस योजना के अंतर्गत सबसे पहले मधुमक्खी पालन करने वाले किसानों को चयन किया जाता है और फिर उन्हें प्रशिक्षण दिया जाता है।

मधुमक्खी पालन से संबंधित हेल्पलाइन नंबर | Madhumakhi Palan Helpline Number

राष्ट्रीय मधुमक्खी बोर्ड, बी विंग, दूसरी मंजिल, जनपथ भवन, जनपथ रोड, नई दिल्लीPhone 📞 — (011) 23325265

इसे भी पढ़ें

स्नेकपीडिया मोबाइल एप्प क्या हैं | Snakepedia Mobile Apps Kya Hai

फुगाकू सुपर कंप्यूटर क्या हैं | Fugaku Super Computer Kya Hai

ब्लैक फंगस महामारी क्या हैं | Black Fangas Mahamare Kya Hai

5 thoughts on “मधु क्रांति पोर्टल क्या हैं | Madhu Kranti Portal Kya Hai”

Leave a Comment